Ruturaj Gaikwad Rajvardhan Hangargekar man of the match award

विजय हज़ारे ट्रॉफी 2022 ( Vijay Hazare Trophy 2022) का दूसरा क्वाटर फ़ाइनल मुकाबला महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम बी ग्राउंड में खेला गया जहाँ महाराष्ट्र ने यूपी को 58 रनों से हराया। महाराष्ट्र को जीत दिलाने में ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) और राजवर्धन हंगरगेकर (Rajvardhan Hangargekar) ने अहम भूमिका निभाई। इसी बीच कप्तान गायकवाड़ ने अपनी दरयादिली से सबका मन भी मोह लिया।

बता दें कि इस मैच में उत्तर प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए महाराष्ट्र की टीम ने 50 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 330 रन बनाए। इसके जवाब में यूपी की टीम 47.4 ओवर में 272 रन ही बना पाई।

गायकवाड़ ने दिखाई दरियादिली

ruturaj gakwad share man of the match award

दरअसल, विजय हज़ारे ट्रॉफी 2022 ( Vijay Hazare Trophy 2022) के दूसरे क्वाटर फ़ाइनल मुकाबले में यूपी के खिलाफ ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने दोहरा शतक जमाया। उन्होंने आतिशी बल्लेबाजी करते हुए 159 गेंदों में 220 रन की नाबाद पारी खेली। साथ ही मैच के 48वें ओवर में छह गेंदों में सात छक्के जड़े। यह उनका विजय हजारे ट्रॉफी में पहला दोहरा शतक है।

मैच के बाद ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया लेकिन उन्होंने इसका हकदार खुद को नहीं बल्कि इस मैच में 5 विकेट लेने वाले हरफनमौला खिलाड़ी राजवर्धन हंगरगेकर (Rajvardhan Hangargekar) को बताया। उन्होंने गायकवाड़ ने प्रेजेंटर से हैंगरगेकर को बुलाने के लिए कहा, जिसके साथ उन्होंने अपना पुरस्कार साझा किया। महाराष्ट्र के कप्तान ने कहा कि हंगरगेकर अपने शानदार स्पैल के लिए प्लेयर ऑफ द मैच पुरस्कार के हकदार हैं।

हैंगरगेकर ने चटकाए 5 विकेट

Rajvardhan Hangargekar 5 wicket

गौरतलब है कि 331 रनों के लक्ष्य का पीछा करने के लिए यूपी की टीम जब मैदान पर उतरी तो इस टीम की तरफ से सभी बल्लेबाज फ्लॉप साबित हुए। इस टीम की तरफ से सिर्फ आर्यन जुयाल ने बड़ी पारी खेली। उन्होंने यूपी की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाए। जुयाल ने 143 गेंदों में 18 चौके और 3 छक्के की मदद से 159 रनों की पारी खेली।

इनके आलावा सभी बल्लेबाजों ने महारष्ट्र के गेंदबाजों के आगे सरेंडर कर दिया। महाराष्ट्र की तरफ से राजवर्धन हैंगरगेकर (Rajvardhan Hangargekar) सबसे सफल गेंदबाज के रूप में साबित हुए, जिन्होंने 10 ओवरों में 53 रन देकर 5 अहम विकेट अपने नाम किए। हैंगरगेकर की घातक गेंदबाजी की वजह से यूपी की कमर टूट गई थी।