सचिन तेंदुलकर को 2003 विश्व कप मे अंडरवियर मे नैपकिन लगाकर खेलना पड़ा मैच

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सचिन तेंदुलकर को 2003 विश्व कप मे अंडरवियर मे नैपकिन लगाकर खेलना पड़ा था मैच,अब खोला राज 

सचिन तेंदुलकर को 2003 विश्व कप मे अंडरवियर मे नैपकिन लगाकर खेलना पड़ा था मैच,अब खोला राज

आईसीसी विश्व कप 2019 मुकाबले का 14वा मैच ओवल के मैदान पर खेला गया. गत चैंपियन ऑस्ट्रलिया और भारत के बीच रविवार को यह मैच खेला गया. भारत ने टॉस जीत कार पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया. भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन ने बहुत अच्छा खेला शिखर ने 117  रन बनाए जिसके बदौलत भारत 352 रन बना पाई. ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हार का स्वाद चखाया. सचिन तेंदुलकर ने अपनी एक यादगार किस्सा साझा कर मैच का मजा और बढ़ा दिया.

सचिन तेंदुलकर को 2003 विश्व कप मे अंडरवियर मे नैपकिन लगाकर खेलना पड़ा था मैच,अब खोला राज 1

सचिन तेंदुलकर ने नैपकिन पहन के विश्व कप मे की बल्लेबाजी

सचिन तेंदुलकर

रविवार को ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच हुए मुकाबले मे कमेंट्री कर रहे मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने एक यादगार किस्सा साझा किया जिसके बारे  मे शायद बहुत कम लोग जानते होंगे.

बात है 2003 विश्व कप कि जब पेट खराब होने के कारण उनको अंडरवियर के अंदर नैपकिन लगाकर बल्लेबाजी करनी पड़ी थी. इसके बाद उन्होंने अपनी एनर्जी ड्रिंक्स में एक चम्मच नमक यह सोचकर मिलाया कि यह रिकवरी में मदद करेगा पर हुआ इसका उल्टा और  उनका पेट ज्यादा खराब हो गया था.

सचिन ने कहा

“यह 2003 में ICC विश्व कप में श्रीलंका के खिलाफ सुपर 6 मैच के दौरान था. मैच से पहले मेरा पेट खराब था और इसका असर मैच के दौरान भी देखने को मिला. आप मेरी हालत का अंदाजा इस बात से लगा सकते थे कि मुझे ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान ड्रेसिंग रूम का दौरा करना पड़ा. मैंने एनर्जी ड्रिंक्स में एक चम्मच नमक भी मिलाया, यह सोचकर कि यह रिकवरी में मदद करेगा, लेकिन इससे और ज्यादा पेट खराब हो गया”.

मजे की बात यह है की इसके बावजूद सचिन तेंदुलकर ने जोहान्सबर्ग में 97 रन बनाए.

शिखर ने दिखाया दमदार  प्रदर्शन

सचिन तेंदुलकर

 

रविवार को भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हरा के फिर एक बार जीत हासिल की. भारत ने 50 ओवर मे 352 रन बनाए जिसमे शिखर धवन 117 रन बनाने के साथ मैन ऑफ़ द मैच बने. कोहली ने 82 रन बनाए. हिटमैन रोहित शर्मा ने 57 रन बना कर अपनी अर्धशतक बनाया.

भारत के हरफनमौला खिलाड़ी  हार्दिक को चौथे नंबर पर  उतरा गया जहाँ उन्होंने 27 गेंदों पर 48 रन बनाए. कैप्टेन कूल कहे जाने वाले धोनी ने 14 गेंदों पर 27 रन बनाए. इसी के साथ भुवनेश्वर और बुमराह ने तीन तीन विकेट झटके और चहल ने 2 विकेट लिए. गेंदबाजो ने अपनी कलाई का जादू  दिखाते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम को 316 रनों पर समेट दिया.

सचिन तेंदुलकर का क्रिकेट करियर

सचिन तेंदुलकर

सचिन का क्रिकेट को लेकर जूनून तो इस किस्से से साफ़ समझ आता है. तबियत खराब होने के बावजूद उन्होंने यह मैच खेला और 97 रन भी बनाए. सचिन ने 463 एकदिवसीय मैच खेले है, जिसमे कि उन्होंने 18426 रन बनाए. उन्होंने अपना आखिरी एकदिवसीय मैच 2012 मे खेला था वो भी चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के विरुद्ध खेला था. 2011 मे उन्होंने जीत के साथ विश्व कप से संन्यास ले लिया है.

Related posts