सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया बड़ा बयान

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल 

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट के मैदान पर ढेरों उपलब्धियां अपने नाम की हुई है. अब जब वह क्रिकेट से संन्यास ले चुके है तो वह अब देश के लिए समाजसेवा के काम में लगे रहते है.

सचिन तेंदुलकर आज रविवार को कोलकता पहुंचे है और वहां उन्होंने कोलकता की मेराथन रेस को हरी झंडी दिखाई है. सचिन ने इस मौके पर कोलकता पुलिस की तारीफ की और कोलकता से जुड़ी अपनी यादों का भी जिक्र किया. सचिन ने यहाँ लोगो को प्रेरित भी किया और महिला सशक्तिकरण के बारे में भी अपनी राय रखी.

सचिन ने कोलकता पुलिस के बांधे तारीफों के पुल 

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल 1

कोलकता पुलिस द्वारा मेराथन इवेंट को आयोजित करने को लेकर सचिन ने अपने बयान में कहा, “हम कोलकता मैं जब भी क्रिकेट खेलने आते थे तो बहुत ज्यादा सुरक्षित महसूस करते थे. मेरे पास कोलकता की कई खास यादें है. और यह सब यादे यहाँ के क्राउड की वजह से है, क्योंकि उन्होंने मुझे यहां हमेशा ही सुरक्षित महसूस करवाया.

 यह देखा जाए तो ड्राइविंग की तरह थोड़ा सा है. चालक तो ड्राइविंग करता है, लेकिन यात्री अपने आप को सुरक्षित महसूस करता है, यहाँ भी कोलकाता पुलिस ड्राइवर हैं और हम सब यात्री हैं, इसलिए जब भी हमारे आस-पास कोलकता पुलिस रहती है हम खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं.”

खेल ने मुझे वापसी करना सिखाया है 

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल 2

सचिन ने आगे अपने बयान में कहा, “मैंने 24 वर्षों से अधिक क्रिकेट खेला है, इस खेल ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है. मैंने हमेशा जीत हासिल नहीं की है, मैंने हार भी देखी है, लेकिन जब मैं हार गया था तब मुझे इस खेल ने फिर से मेहनत करके अपने बेस्ट देकर वापसी करना सिखाया है.”

उन्होंने कहा, “यहां भी मैं उम्मीद करता हूं, कि आप सभी कड़ी मेहनत करेंगे अपने सपने को पूरा करने के लिए करेंगे और मुझे उम्मीद है, कि आप सभी अपने दिल में महिलाओं के लिए विशेष सम्मान रखेंगे और इसके लिए मैं आपकों आल द वैरी बेस्ट भी कहना चाहता हूं.”

खेलों के हीरों होने जरुरी 

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल 3

महान फुटबॉलर पीके बेनर्जी सचिन के साथ मंच साझा करते हुए सचिन ने कहा, “यहां आना वास्तव में मेरे लिए एक सम्मान की बात है. कई ऐसे लोग हैं जो कई पीढ़ियों को प्रेरणा देने के लिए कुछ खास कर जाते है. अगर हमारे पास खेलों के लिए हीरो नहीं होंगे, तो चीजें अच्छी नहीं होगी.”

महिलाएं भारत की रीढ़ हैं

सचिन तेंदुलकर ने महिला सशक्तिकरण को लेकर दिया ऐसा बयान, जिसे छू लिया करोड़ो हिन्दुस्तानियों का दिल 4

उन्होंने इस देश में महिला सशक्तिकरण की आवश्यकता के बारे में भी बात की और कहा “जहां तक महिला शक्ति का संबंध है, मुझे लगता है, कि वे भारत की रीढ़ हैं. मुझे अभी भी एक बच्चे के रूप में याद है जब मैं घर वापस आऊँगा, तो मेरी मां मेरे लिए हर संभव कोशिश करती है. महिलाओं के लिए, उनके घर की देखभाल करने में सक्षम होना और उनकी नौकरी विश्वसनीय भी है.”

Related posts

Leave a Reply