ब्रैड हॉग ने सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद लिया उनका ऑटोग्राफ तो दिग्गज ने लिखी ये बात 1

विश्व क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर का किसी गेंदबाज को विकेट मिलना एक बहुत ही खास उपलब्धि माना जाता था। क्रिकेट जगत के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक सचिन तेंदुलकर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में 24 साल तक अपना अधिपत्य रखा। भारत के इस महान बल्लेबाज को क्रिकेट के भगवान के रूप में जाना जाता है।

सचिन तेंदुलकर का विकेट मिलना किसी भी गेंदबाज के लिए खास

क्रिकेट के मैदान में सचिन तेंदुलकर का एक अलग ही वर्चस्व रहा है। इसी कारण उनका विकेट किसी भी गेंदबाज के लिए एक अलग तरह का अहसास माना जाता था। उनका विकेट हर किसी गेंदबाज के लिए लेना आसान नहीं होता था।

ब्रैड हॉग ने सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद लिया उनका ऑटोग्राफ तो दिग्गज ने लिखी ये बात 2

ऐसे में जब किसी गेंदबाज को सचिन तेंदुलकर को विकेट मिल जाए जो काफी समय से इसका प्रयत्न कर रहा हो तो ये वाकई में उस गेंदबाज के लिए बहुत ही स्पेशल मोमेंट माना जा सकता था। इसी तरह का अनुभव ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिन गेंदबाज ब्रैड हॉग के करियर में आया।

जब ब्रैड हॉग को मिला था सचिन तेंदुलकर का विकेट

साल 2007 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक वनडे सीरीज खेली गई। 5 अक्टूबर को हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए मैच में ब्रैड हॉग को सचिन तेंदुलकर का विकेट हाथ लगा था, जिसके बाद हॉग काफी खुश हुए और मैच के बाद उन्होंने सचिन तेंदुलकर से ऑटोग्राफ लिया।

ब्रैड हॉग ने सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद लिया उनका ऑटोग्राफ तो दिग्गज ने लिखी ये बात 3

ब्रैड हॉग ने सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद लिया उनका ऑटोग्राफ तो दिग्गज ने लिखी ये बात 4

 

उस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 290 रनों का स्कोर खड़ा किया था। भारत के लिए सचिन तेंदुलकर लक्ष्य का पीछा करते हुए बढ़िया बल्लेबाजी कर रहे थे। सचिन को 27वें ओवर में 43 के स्कोर पर ब्रैड हॉग ने बोल्ड कर दिया। ब्रैड हॉग को पहली बार सचिन का विकेट प्राप्त हुआ था, जो उनके करियर में खास पल था।

विकेट लेने के बाद लिया सचिन का ऑटोग्राफ

इसके बाद ब्रैड हॉग सचिन के पास ऑटोग्राफ लेने पहुंचे। सचिन ने बड़ी सादगी के साथ ऑटोग्राफ तो दिया लेकिन साथ ही ये भी कहा कि अब उन्हें दोबारा कभी उनका विकेट नहीं मिलेगा।

ब्रैड हॉग ने सचिन तेंदुलकर का विकेट लेने के बाद लिया उनका ऑटोग्राफ तो दिग्गज ने लिखी ये बात 5

सचिन तेंदुलकर के द्वारा मिले ऑटोग्राफ की घटना को याद करते हुए ब्रैड हॉग ने कहा कि

“मैंने उस मैच में उन्हें आउट कर दिया था और फिर उनसे अपने लिए ऑटोग्राफ देने के लिए कहा था। उन्होंने मुझे ऑटोग्राफ दिया और मेरे लिए एक मैसेज भी लिखा, ‘ये फिर कभी दोबारा नहीं होगा, हॉग।”

इस विकेट की वेल्यू बताते हुए ब्रैड हॉग ने कहा कि

“ये थोड़ा कीमती है। ये सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी के साथ मैदान पर खेलना सम्मान की बात है। उन्हें गेंदबाजी करना एक शानदार अनुभव है। अगर मैं वहां हूं, तो मैं उनसे मुकाबला करने और उनके लिए जीवन को कठिन बनाने के लिए हूं।”