अर्जुन तेंदुलकर की टीम के साथ हुए धोखे को देख यह बोल गए सचिन तेंदुलकर

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मुंबई टी-20 लीग में अर्जुन तेंदुलकर की टीम के साथ हुए धोखे को देख यह क्या बोल गए सचिन तेंदुलकर 

मुंबई टी-20 लीग में अर्जुन तेंदुलकर की टीम के साथ हुए धोखे को देख यह क्या बोल गए सचिन तेंदुलकर

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम  में 14 मई से खेले जा रहे  मुंबई टी 20 लीग का यह दूसरा सीजन हैं. जिसमे की 8 टीमों ने हिस्सा भी लिया हैं.  इस लीग में  महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन भी आकाश  टाइगर्स मुंबई वेस्टर्न सबर्ब की ओर से खेल रहे हैं. उन्हें खिलाड़ियों की नीलामी में 5 लाख रुपये में खरीदा गया. रणजी टीम के नियमित सदस्य श्रेयस अय्यर, सूर्य कुमार यादव, आकाश पार्कर, शिवम दुबे, सिद्धेश लाड  और पृथ्वी शॉ भी इस टूर्नमेंट में खेल रहे हैं .

ऐसा क्या हो गया मैच में

सचिन तेंदुलकर

शनिवार को 15वें ओवर के अंत में सोबो सुपरसोनिक्स की टीम बिना विकेट गंवाए 158 रन पर थी, तब ही  हर्ष टैंक को क्रैंप के कारण उपचार कराना पड़ा. ओवर की अंतिम गेंद पर जय बिष्ट ने एक रन लिया, लेकिन अगले ओवर के शुरू होने पर किसी भी खिलाड़ी या अंपायर ने महसूस नहीं किया कि टैंक स्ट्राइक छोर पर थे, बिष्ट नहीं.

गलत स्ट्राइक लेने के बाद टैंक पहली गेंद पर आउट हो गए. अंपायरों को महसूस हुआ कि बल्लेबाजों ने छोर नहीं बदला था, तो उन्होंने इसे डेड बॉल करार कर दिया, जिससे आकाश टाइगर्स की टीम को विकेट नहीं मिला, जबकि गलती पूरी तरह से बल्लेबाजों की थी.

क्या कहा सचिन तेंदुलकर ने

सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर को लगता है कि गेंदबाजी करने वाली टीम की तरह बल्लेबाजी करने वाली टीम को भी मैच के दौरान खेल के नियमों का उल्लघंन करने के लिए सात रन का जुर्माना लगाया जाना चाहिए.  सोबो सुपरसोनिक्स और आकाश टाइगर्स मुंबई वेस्टर्न सबर्ब के बीच हुए अजीबोगरीब विवाद के बाद तेंदुलकर ने यह टिप्पणी की.

उन्होंने कहा,

‘जो भी मैंने देखा, वो मैंने पहली बार देखा है और फिर मैंने सोचना शुरू किया कि क्या किया जा सकता है और यह एक डेड बॉल नहीं हो सकती. लेकिन नियम इस तरह के हैं कि जो कुछ भी हुआ, वो उस समय सही चीज थी.’

यह भी जानें

सचिन तेंदुलकर

जहाँ एक तरफ अर्जुन तेंदुलकर को आकाश टाइगर्स मुंबई वेस्टर्न सबर्ब ने खरीदा वहीं  दूसरी और महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर इस लीग के ब्रांड एंबेस्डर हैं. कई टीमों ने अर्जुन पर बोली लगायी थी नीलामी करा रहे चारु शर्मा ने दो टीमों -आकाश टाइगर्स मुंबई वेस्टर्न सबर्ब और ईगल थाणे स्ट्राइकर्स को बराबरी करने के मौके (ओटीएम) का विकल्प दिया। दोनों टीमों ने ओटीएम का विकल्प चुना जिससे एक बैग में दो कार्ड रखे गये और मुंबई क्रिकेट संघ तदर्थ समिति के सदस्य उन्मेश खानविलकर ने एक कार्ड चुना जो आकाश टाइगर्स का था जिससे उन्होंने जूनियर तेंदुलकर को हासिल कर लिया.

Related posts