सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक 

सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक

ब्रैड हॉग ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 7 टेस्ट मैच, 123 वनडे मैच व 15 टी20 मैच खेले हुए है. जिसमे ब्रैड हॉग ने टेस्ट मैच में 7 विकेट, वनडे में 156 विकेट व टी20 क्रिकेट में 7.61 की इकॉनामी से 7 विकेट लिए हुए है. वह वर्तमान में सोशल मीडिया में काफी एक्टिव रहते हैं और अपने प्रशंसकों के तरह-तरह के सवालों का बेबाकी से जवाब भी देते हैं. इसी बीच उन्होंने सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर में से ज्यादा रोचक प्रतिद्वंद्विता के बारे में बताया है.

ब्रैड हॉग ने सचिन v अख्तर को बताया ज्यादा रोचक प्रतिद्वंद्विता

सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक 1

ट्विटर पर एक भारतीय फैन ने ब्रैड हॉग से सवाल किया था, ‘सचिन तेंदुलकर v ग्लेन मैकग्रा या सचिन तेंदुलकर v शोएब अख्तर में आपको ज्यादा अच्छी कौन सी प्रतिद्वंद्विता लगती थी?

इसके जवाब में ब्रैड हॉग ने लिखा, “सचिन तेंदुलकर और ग्लेन मैकग्रा के बीच लंबी जंग देखने को मिलती थी, मैकग्रा धैर्य से जीत दर्ज करना चाहते थे. वहीं अख्तर का ध्यान तेंदुलकर के खिलाफ अपनी तेजी से अटैक करने पर होता था और इसके अलावा भारत बनाम पाकिस्तान मैच से प्रतिद्वंद्विता और कड़ी हो जाती थी. मुझे दूसरी ज्यादा पसंद थी.”

यहाँ देखें ब्रैड हॉग द्वारा किया गया ट्वीट

सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक 2

 

धोनी की वापसी पर भी रखी थी अपनी राय

सचिन v मैकग्रा या सचिन v अख्तर, दोनों में से इस प्रतिद्वंद्विता को ब्रैड हॉग ने बताया रोचक 3

कुछ दिन पहले एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट करते हुए ब्रैड हॉग से पुछा था कि क्या टी-20 विश्व कप 2020 के लिए महेंद्र सिंह धोनी की भारतीय टीम में वापसी होगी.

इसके जवाब में ब्रैड हॉग ने लिखा था, “आईपीएल का परफॉर्मेंस बाकी है, लेकिन दुर्भाग्य से मुझे लगता है कि नहीं, ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने काफी समय से इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेला है और आईपीएल में होने वाले उनके ज्यादातर मैच चेन्नई में ही होने हैं. चेन्नई की पिच स्पिन गेंदबाजी के माकूल है ना कि पेस गेंदबाजी की, जो कि ऑस्ट्रेलिया में उन्हें मिलेगी.

Related posts