पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका 

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भले ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया हो, लेकिन क्रिकेट के प्रति उनका प्यार अभी भी जरा सा भी कम नहीं हुआ है.

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट को लेकर एक बड़ा ही रोचक आईडिया दिया है. जिसमे उन्होंने कहा है, कि क्रिकेट की एक टीम में 11 खिलाड़ियों से ज्यादा खिलाड़ियों को एक टीम में शामिल किया जाना चाहिए.

14 खिलाड़ियों को शामिल करने का दिया सुझाव 

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका 1

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट में 11 खिलाड़ियों में से 3 खिलाड़ी और बढ़ाकर 14 खिलाड़ी करने की बात कही है.

हालाँकि सचिन ने एक टीम में 14 खिलाड़ियों की यह बात स्कूल क्रिकेट को लेकर कही है. सचिन का कहना है, कि स्कूल क्रिकेट में सभी बच्चे टीम में खेलना चाहते है. ऐसे में ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ियों को मौका देने के लिए 14 खिलाड़ीयों को एक टीम में शामिल किया जाना चाहिए.

स्कूलों ने भी मानी सचिन की बात 

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका 2

आपको बता दे, कि सचिन के इस सुझाव को मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) ने मान भी लिया है, इस नियम को प्रतिष्ठित इंटर-स्कूल टूर्नामेंट के एलीट फाइनल्स तक लागू करेगा.

इस नियम की गुजारिश सचिन तेंदुलकर और मुंबई स्कूलस स्पोर्ट्स एसोसिएशन (एमएसएएस) क्रिकेट के सचिव और वानखेड़े स्टेडियम के पूर्व पिच क्युरेटर नादिम मेनन ने की थी.

सचिन का आईडिया सभी को पसंद 

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका 3

मुंबई स्कूलस स्पोर्ट्स एसोसिएशन (एमएसएएस) क्रिकेट के सचिव नादिम मेनन ने अपने एक बयान में सचिन के सुझाव को लेकर कहा, “सचिन का आइडिया सभी स्कूलों, कोचों खिलाड़ियों और उनके माता-पिता को पसंद आया है, क्योंकि सभी खेलने का मौका हासिल करना चाहते है. 

ये सचिन का आईडिया ही है. जिसकी मदद से 84 और ज्यादा बच्चों को खेलते हुए देखने का मौका मिलेगा, इससे कोच के पास भी ज्यादा विकल्प होंगे वह अपनी टीम में पुरे 11 बल्लेबाजो के साथ खेल सकता है और कई शानदार गेंदबाज भी अपनी टीम में शामिल कर सकता है .”

सचिन ने भी जाहिर की अपनी खुशी 

पहली बार भारत में एक साथ खेलते दिखेंगे दोनों टीमो में 11 की जगह 14 खिलाड़ी, बैठे हुए खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका 4

अपने आईडिया को मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा मानने के बाद सचिन ने खुशी जाहिर करते हुए टाइम्स ऑफ़ इंडिया को दिए गये अपने एक बयान में कहा, “मुझे खुशी है, कि अब इस सुझाव को अमल में लाने से और अधिक बच्चों को खेलने का अवसर मिलेगा. यह विचार कई बच्चों के खेल खेलने और बच्चों को स्वस्थ जीवन प्रदान करने में काफी मदद करेगा यह एक शानदार पहल है.”

Related posts

Leave a Reply