/

मैच जीतने के बाद भी विरोधी टीम के ड्रेसिंग रूम में जाकर रो पड़े थे सचिन तेंदुलकर, वजह जान बढ़ जायेगी इस दिग्गज की इज्जत

PC: GOOGLE

क्रिकेट के भगवान के नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट करियर में अनगिनत रिकॉर्ड तोड़े और बनाए, उनकी जितनी उपलब्धिया दुनिया में किसी भी क्रिकेटर ने हासिल नहीं की सचिन जितना अपने शानदार खेल के लिए जाने जाते थे उतना ही अपने नर्म स्वभाव के लिए भी जाने जाते है.भारतीय टीम सहित कप्तान विराट कोहली ने चुन लिया अपना कोच, इस दिग्गज खिलाड़ी को कोच बनाना चाहती है भारतीय टीम

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

मगर आपको शायद यह पता नहीं होगा की सचिन तेंदुलकर अपने 25 साल के लम्बे करियर के दौरान एक मैच में जीतने के बाद भी इतने भावुक हो गए थे कि वह अपनी विरोधी टीम के ड्रेसिंग रूम में जाकर रो पड़े थे.

स्टीव हार्मिसन ने किया खुलासा 

मैच जीतने के बाद भी विरोधी टीम के ड्रेसिंग रूम में जाकर रो पड़े थे सचिन तेंदुलकर, वजह जान बढ़ जायेगी इस दिग्गज की इज्जत 1

इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिसन ने अपनी आत्मकथा “स्पीड डेमन्स” में अपने करियर के कई उतार चढ़ाव पर चर्चा की है और अपनी इसी आत्मकथा में उन्होंने 2008 में मुंबई के आतंकवादी हमलों के बाद खेली गई टेस्ट श्रंखला का भी उल्लेख किया है और बताया है कि भारत के चेन्नई टेस्ट मैच जीतने के बाद सचिन तेंदुलकर इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम में आये और मुंबई हमले में मारे गए लोगो की याद में जीत के बाद हमारी टीम को धन्यवाद कहते हुए रोने लगे.

इस वजह से कहा था इंग्लैंड को धन्यवाद 

मैच जीतने के बाद भी विरोधी टीम के ड्रेसिंग रूम में जाकर रो पड़े थे सचिन तेंदुलकर, वजह जान बढ़ जायेगी इस दिग्गज की इज्जत 2
photo credit with getty images

चेन्नई टेस्ट मैच जीतने के बाद सचिन तेंदुलकर ने इंग्लैंड की टीम को इस वजह से धन्यवाद कहा था, क्योंकि सचिन के शहर मुंबई में हुए आतंकी हमले के बाद भी इंग्लैंड की टीम दोबारा भारत टेस्ट सीरीज खेलने आई थी, मगर वह इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम में पहुँचने के बाद शहीदों की याद में इतने भावुक हो गए की उनके आंख में आंसू आ गए. 

लगाया था शतक 

मैच जीतने के बाद भी विरोधी टीम के ड्रेसिंग रूम में जाकर रो पड़े थे सचिन तेंदुलकर, वजह जान बढ़ जायेगी इस दिग्गज की इज्जत 3

इंग्लैंड के खिलाफ 2008 में भारत की चेन्नई टेस्ट जीत में सचिन तेंदुलकर ने चौथी पारी में शतक लगाया था, जो चौथी पारी में उनके करियर   का पहला शतक था.भारतीय सलामी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने वेस्टइंडीज के खिलाफ ये कारनामा कर सचिन-वीरू जैसे दिग्गजों की फेहरिस्त में हुए शामिल

2-0 से जीती थी भारत ने सीरीज 

2008 में मुंबई के आतंकवादी हमलों के बाद खेली गई दो मैचों की भारत – इंग्लैंड टेस्ट श्रंखला भारत ने 2-0 से जीती थी, इसी सीरीज के चेन्नई टेस्ट में भारत ने सचिन तेंदुलकर के शतक की बदोलत 387 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा किया था.