अर्जुन तेंदुलकर पर नेपोटिज्म का आरोप लगाने वालों को सचिन के बचपन के दोस्त ने दिया करारा जवाब 1

आईपीएल (IPL 2021) के नीलामी के दौरान सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने उनके बेस प्राइस 20 लाख में खरीदा. फिर क्या था इसके बाद सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़ आ गई।

लोगों ने अर्जुन तेंदुलकर के आईपीएल में इंट्री को नेपोटिज्म से जोड़ा और ट्रोल किया. लेकिन इसी बीच सचिन तेंदुलकर के दोस्त और पूर्व भारतीय बल्लेबाज विनोद कांबली (Vinod Kambli) ने फैंस से अर्जुन को प्रेरित करने की अपील की है.

विनोद कांबली ने किया अर्जुन की तारीफ

अर्जुन तेंदुलकर पर नेपोटिज्म का आरोप लगाने वालों को सचिन के बचपन के दोस्त ने दिया करारा जवाब 2

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर एवं सचिन तेंदुलकर के जिगरी दोस्त विनोद कांबली (Vinod Kambli) ने अर्जुन तेंदुलकर का बचाव किया और ट्विटर पर पिक्चर साझा करते हुए लिखा-

“मैंने अर्जुन के दिल में इस खेल के लिए प्यार और उनकी कड़ी मेहनत को देखा है, मुंबई प्रीमियर लीग के दौरान हम खेल के बारे में लंबी बातचीत करते थे, खेल के प्रति निष्ठा शानदार है. उन्होंने अभी केवल शुरुआत की है. उसे किसी और युवा की ही तरह बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करते हैं.”

जहीर खान ने भी किया था अर्जुन का समर्थन

अर्जुन तेंदुलकर पर नेपोटिज्म का आरोप लगाने वालों को सचिन के बचपन के दोस्त ने दिया करारा जवाब 3

विनोद कांबली से पहले मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट जहीर खान (Zaheer Khan) ने भी अर्जुन तेंदुलकर को खरीदने के बाद कहा था कि-

“अर्जुन (तेंदुलकर) बहुत ही मेहनती है. वह काफी कुछ सीखना चाहता है. उसके ऊपर हमेशा सचिन तेंदुलकर के बेटे होने का प्रेशर रहेगा. उसे इसी के साथ जीना होगा. यह पहला मौका नहीं है, जब अर्जुन टीम के साथ होगा. इससे पहले आईपीएल 2020 में भी वह नेट गेंदबाज के रूप में टीम के साथ यूएई गया था.”

अर्जुन तेंदुलकर ने टी-20 आँकड़े

अर्जुन तेंदुलकर

मुंबई इंडियंस में शामिल होने वाले अर्जुन तेंदुलकर के आंकड़ों पर नजर डाले तो उन्होंने पिछले दिनों सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में मुंबई के लिए डेब्यू किया था। इस दौरान उनके प्रदर्शन पर नजर डाले तो उन्होंने 2 मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने कुल 2 विकेट झटके थे। अगर उनके गेंदबाजी इकॉनमी पर नजर डाले तो उन्होंने 9.57 की इकॉनमी से गेंदबाजी से रन खर्च किए।