//

साक्षी धोनी ने बताया, आखिर क्यों महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं दी लोगो को कोरोना से बचने की सलाह

देश इस समय काफी गंभीर बिमारी से जुझ रहा है. ऐसे संकट के समय में खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से सहयोग मांगते हुए दान करने की अपील की थी. देश में सभी ने अपनी हैसियत के मुताबिक दान किया. इस मौके पर भारतीय क्रिकेटर्स ने भी खुलकर दान दिया. कप्तान विराट कोहली से लेकर सचिन तेंदुलकर तक जैसे क्रिकेटरों ने पीएम केयर फंड में दान दिया.

धोनी ने नहीं दी लोगो को कोरोना से बचने की सलाह

पबजी

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर जैसे क्रिकेटरों ने जहां एक बड़ी धनराशी डोनेट की, उसके साथ ही अपने सोशल मीडिया अकाउंट से लोगो को कोरोना से बचने की सलाह भी दी.
ऐसा कई भारतीय खिलाड़ियों ने किया था. हालांकि भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से लोगो को कोरोना से बचने की कोई सलाह नहीं दी थी, जिसके लिए उनकी काफी आलोचना भी हुई थी.

साक्षी ने बताया, धोनी ने क्यों नहीं दी कोरोना से बचने की सलाह

साक्षी धोनी

चेन्नई सुपर किंग्स की आधिकारिक प्रेसेंटर रूपा रमानी के साथ एक इंस्टाग्राम लाइव सत्र के दौरान साक्षी धोनी ने कहा, “उन्हें कोरोनवायरस और सभी पर वीडियो पोस्ट करने का दबाव था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया, क्योंकि आप जानते हैं, यदि आपके पीएम ने कुछ कहा है, तो आपको इसको अच्छी तरह से पालन करना चाहिए और उनकी सभी दिशा निर्देशों को मानना चाहिए. देश में आपके पीएम से बड़ा कोई नहीं हो सकता है, इसलिए, उन्होंने सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर कुछ भी नहीं कहा है.”

एक लाख डोनेट करने पर भी साक्षी दे चुकी है सफाई

साक्षी धोनी ने बताया, आखिर क्यों महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं दी लोगो को कोरोना से बचने की सलाह 1

27 मार्च को खबर आई थी कि धोनी ने कोरना वायरस से लड़ने के लिए एक एनजीओ को 1 लाख रूपये की राशि दी है. इस खबर के आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगो ने यहां तक लिखा दिया था कि धोनी की सालाना कमाई 800 करोड़ के करीब है और इतने पैसे कमाने के बावजूद उन्होंने मामूली राशि दान की है.

महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी धोनी अपने पति के बारे में फैलाएं गए इस झूठ से काफी दुखी थी. उन्होंने मीडिया को इसके लिए फटकार भी लगाई थी. साक्षी ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, “मैं सभी मीडिया हाउस से आग्रह करती हूं कि इस संवेदनशील समय में कृपया गलत खबरें ना फैलाएं. आपको शर्म आनी चाहिए. हैरान हूं कि जिम्मेदार पत्रकारिता कहां गायब है.”