संजय मांजरेकर

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में न्यूज़ीलैंड के हाथों मिली करारी हार के बाद भारतीय टीम की कड़ी आलोचना की जा रही है. अब इसी कड़ी में भारत के पूर्व क्रिकेटर और प्रसिद्ध कमेंटेटर संजय मांजरेकर भी शामिल हो गए हैं. संजय मांजरेकर ने एक बार फिर से रविंद्र जडेजा को लेकर सवाल उठाए हैं. संजय मांजरेकर का कहना है कि फाइनल मुकाबले में रविंद्र जडेजा की टीम इंडिया में जगह नहीं बनती थी.

जडेजा की काबिलियत पर फिर मांजरेकर ने उठाए सवाल

संजय मांजरेकर

संजय मांजरेकर का मानना है कि भारत ने साउथैम्प्टन की पिच पर ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को प्लेइंग इलेवन में शामिल करके एक बहुत बड़ी भूल की थी. इसके अलावा उनका कहना है कि जडेजा को उनकी बल्लेबाजी के कारण प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था.

संजय मांजरेकर ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से बातचीत के दौरान कहा,

”अगर आपको यह देखना है कि मैच शुरू होने से पहले भारत कैसा चल रहा था, तो दो स्पिनरों को चुनना हमेशा एक बहस का विषय था, खासकर जब हालात तेज़ गेंदबाज़ों के माकूल थे और टॉस में एक दिन की देरी हुई थी. उन्होंने अपनी टीम में एक बल्लेबाज़ को शामिल किया, जो जडेजा थे.”

जडेजा को खिलाने का फैसला था गलत- मांजरेकर

संजय मांजरेकर

संजय मांजरेकर ने साथ ही कहा कि रविंद्र जडेजा को खिलाकर टीम इंडिया ने जो प्लानिंग की थी वो पूरी तरह से धरी की धरी रह गई. आगे बोलते हुए उन्होंने कहा,

”आपको टीम में विशेषज्ञ खिलाड़ियों को चुनना होता है और अगर उन्हें लग रहा था कि पिच सूखी है और टर्न होना था, तो वो अश्विन के साथ-साथ अपने बाएं हाथ के स्पिन के लिए जडेजा को चुनते, यह समझ में आता. लेकिन उन्होंने उसे उसकी बल्लेबाजी के लिए चुना, जो मुझे लगता है कि उल्टा हो गया.”

मांजरेकर और जडेजा के बीच है छत्तीस का आंकड़ा

संजय मांजेरकर

2019 विश्व कप के दौरान संजय मांजरेकर ने रविंद्र जडेजा को एक बेहतरीन ऑलराउंडर मानने से इनकार किया था. बाद में रविंद्र जडेजा ने सेमीफाइनल मुकाबले में बेहतरीन पारी खेलते हुए संजय मांजरेकर को करारा जवाब दिया था. जडेजा ने ट्वीट करते हुए मांजरेकर को अच्छे खिलाड़ियों की इज्जत करने की सलाह दी थी.

अभी कुछ दिन पहले ही संजय मांजरेकर ने एक यूजर से बात-चीत के दौरान रविंद्र जडेजा की अंग्रेजी का मजाक उड़ाया था. इसके अलावा उन्होंने अपनी प्लेइंग इलेवन में भी भारतीय ऑलराउंडर को जगह नहीं दी थी जिसके बाद फैन्स ने उनकी ट्रोलिंग की थी.