AUSvsIND: रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट विवाद पर संजय मांजरेकर का आया विवादित बयान 1
CANBERRA, AUSTRALIA - DECEMBER 04: Ravindra Jadeja of India bats during game one of the Twenty20 International series between Australia and India at Manuka Oval on December 04, 2020 in Canberra, Australia. (Photo by Ryan Pierse - CA/Cricket Australia via Getty Images)

ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टी20 सीरीज के पहले ही मैच में एक बड़ा विवाद खड़ा हो गया है। अब तक तो वनडे सीरीज पूरी तरह से शांत माहौल में खेली जा रही थी, लेकिन टी20 सीरीज के शुरू होने के साथ ही एक विवाद ने बड़ी बहस को जन्म दे दिया है, जिसकी आंच अब आने वाले दिनों में और भी तेज होगी।

रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट पर छिड़ी बहस

कैनबरा में खेले गए पहले टी20 मैच में रवीन्द्र जडेजा के हेलमेट पर गेंद लगने का मामला अब लगातार बढ़ता जा रहा है, जिसमें कई क्रिकेट एक्सपर्ट अपनी राय देने से नहीं चूक रहे हैं। जिसमें कई एक्सपर्ट रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन को सही मान रहे हैं तो कई एक्सपर्ट इसे प्रोटोकॉल के खिलाफ मान रहे हैं।

AUSvsIND: रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट विवाद पर संजय मांजरेकर का आया विवादित बयान 2

रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट के रूप में युजवेन्द्र चहल को मौका दिया गया, जो ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे खतरनाक साबित हुए। लेकिन अब इसे लेकर बहस छिड़ गई है, जिसमें संजय मांजरेकर ने भी इसे प्रोटोकॉल के तहत नहीं माना।

प्रोटोकॉल को तोड़ने वाला बताया संजय मांजरेकर ने

संजय मांजरेकर ने सोनी सिक्स के साथ कमेन्ट्री के दौरान कहा कि

“प्रोटोकॉल को तोड़ा गया। मुझे पूरी उम्मीद है कि मैच रेफरी टीम इंडिया से इस मुद्दे को लेकर जरूर सवाल करेंगे। जैसे ही किसी बल्लेबाज को सिर पर चोट लगती है तो टीम के फिजियो तुरंत मैदान पर आकर बल्लेबाज की चोट का जायजा लेते हैं। वो पूछते हैं कि उन्हें कैसा लग रहा है। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। बिना किसी देरी के मैच चलता रहा।”

AUSvsIND: रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट विवाद पर संजय मांजरेकर का आया विवादित बयान 3

विश्वसनीयता की दिखी कमी

भारत के पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने आगे इस कन्कशन सब्टीट्यूट के फैसले को लेकर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने सीधे तौर पर विश्वसनीयता पर ही सवाल उठा दिए हैं।

उन्होंने कहा कि

“उसने(रवीन्द्र जडेजा) सिर्फ नौ रन जोड़े, ये कोई बड़ा फायदा नहीं था। लेकिन गेंद लगने के बाद कम से कम दो या तीन मिनट होने चाहिए थे, जिसमें भारत के सपोर्ट स्टाफ को आना चाहिए था। तो ये थोड़ा ज्यादा विश्वसनीय दिखता।”

AUSvsIND: रवीन्द्र जडेजा के कन्कशन सब्टीट्यूट विवाद पर संजय मांजरेकर का आया विवादित बयान 4

“मैं एक बात कहूंगा, हालांकि, डेविड बून के पास भारत को सहमति का विकल्प देने के अलावा कोई विकल्प नहीं था क्योंकि वो कहने की हिम्मत नहीं जुटाएंगे क्योंकि वो उन्हें अनुमति नहीं देगा, क्योंकि प्रभाव के समय अनुरोध किए जाने के बाद एक बार फिर सहमति देने के लिए कोई ध्यान नहीं दिया गया था।”