रणजी ट्रॉफी: सरफराज खान ने जड़ा तिहरा शतक, कभी विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका, अब तिहरा शतक जड़ पेश की टीम इंडिया की दावेदारी 

विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका, अब तिहरा शतक जड़ पेश की टीम इंडिया की दावेदारी

रणजी ट्रॉफी के 6वें राउंड में मुंबई से सामने उत्तर प्रदेश की टीम थी। दोनों टीम के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में यह मुकाबला खेला गया। उत्तर प्रदेश के कप्तान अंकित राजपूत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। उनका टीम ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 625 रन बना दिए। उनके लिए उपेंद्र यादव ने 203 रनों की सबसे बड़ी पारी खेली।

सरफराज खान का तिहरा शतक

विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका, अब तिहरा शतक जड़ पेश की टीम इंडिया की दावेदारी 1

मुंबई के युवा बल्लेबाज सरफराज खान ने इस मुकाबले में तिहरा शतक जड़ दिया है। टीम की शुरुआत खराब रही थी और 128 पर 4 विकेट गिरने के बाद सरफराज बल्लेबाजी करने आए। उनके नाम वह मैच समाप्त होने तक आउट नहीं हुए।

उन्होंने 391 गेंदों पर 8 छक्के और 30 चौकों की मदद से 301 रन बनाकर नाबाद रहे। वीरेंद्र सहवाग की तरह उन्होंने छक्का लगातर अपना तिसरा शतक पूरा किया। इस मैच से पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उनका सबसे बड़ा स्कोर 155 रन ही था।

मुकाबला ड्रॉ हुआ

विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका, अब तिहरा शतक जड़ पेश की टीम इंडिया की दावेदारी 2

मुंबई ने पहली पारी में 7 विकेट पर 688 रन बनाए और मुकाबला ड्रॉ रहा। हालांकि, पहली पारी में बढत बनाने की वजह से मुंबई को अतिरिक्त अंक मिला। निचले क्रम के बल्लेबाजों ने तिहरा शतक बनाने में सरफराज खान का अच्छा साथ निभाया।

विकेटकीपर बल्लेबाज अदित्य तारे ने 97 रनों की पारी खेली वहीं ऑलराउंडर शम्स मुलानी के बल्ले से भी 65 रन निकले। इसी वजह रहा कि सरफराज ने अपना शतक पूरा किया। कप्तान सिद्देश लाड ने भी 98 रनों की पारी खेली थी।

विराट ने किया था ड्रॉप

विराट कोहली ने ओवरवेट बोलकर नहीं दिया था मौका, अब तिहरा शतक जड़ पेश की टीम इंडिया की दावेदारी 3

सरफराज खान आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम का हिस्सा रह चुके हैं। उन्होंने निचले क्रम में आकर कई विस्फोटक पारियों खेली लेकिन विराट कोहली ने ज्यादा वजह होने की वजह से उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया था।

इसी वजह से आईपीएल 2016 में 212 की स्ट्राइक रेट से रन बनाने के बाद भी उन्हें 5 मैचों में ही खेलने का मौका मिला। आईपीएल 2017 में उन्हें कोई मैच खेलने का मौका नहीं मिला था। अब वह किंग्स इलेवन पंजाब का हिस्सा हैं और इस आईपीएल टीम को उनसे विस्फोटक बल्लेबाजी की उम्मीद रहेगी।

Related posts