गांगुली ने विराट कोहली की खेलने के जोश को लेकर किया खुलासा

SAGAR MHATRE / 14 August 2015

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने, विराट कोहली की खेलने के जोश को लेकर महान फुटबॉल खिलाडी डियागो मराडोना से तुलना की है.

गांगुली ने कहा, डियागो मराडोना मेरे पसंदीदा फुटबॉल खिलाडी थे, और जब मै उन्हें खेलते हुए देखता था तो वे हमेशा एक जज्बे के साथ खेलते थे. और वैसी ही चीज मुझे कोहली में दिखती है. कोहली का मै बडा फैन हु, और उनकी शारीरिक भाषा काफी आक्रमक रहती है. जब मै विराट कोहली को खेलते हुए देखता हु, तब हमेशा मुझे उनमे आत्मविश्वास दिखता है. ये बात गांगुली ने क्रिकबज से कि.

गांगुली ने कहा, कोहली में जीत की भूक है, और वे हमेशा जीत के लिए खेलते है, और इसी वजह से उन्होंने पांच गेंदबाज खेलाए है. उनके नाम अब बतौर कप्तान चार मैचों में चार शतक है, जो अच्छी बात है. इस मैच में पांच गेंदबाज खेलाने का फैसला अब तक सहीं साबित हुआ है, और भारत मजबूत स्थिति में है. अॉस्ट्रेलिया उस वक्त चार गेंदबाजों के साथ भी नंबर एक टीम थी. लेकिन उनके पास, मेंग्रा, वॉर्न, ली, और गिलेस्पी जैसे चार शानदार गेंदबाज थे. लेकिन कोहली का ये फैसला शानदार है.

गांगुली ने कहा, एक या दो मैचों से हम किसी खिलाडी को अच्छा या बुरा नहीं कह सकते. और रोहित शर्मा को तीसरे नंबर पर खेलने का मौका मिला है, और उन्हें अपने आपको साबित करने के लिए और मौके मिलना चाहिए. भारत एक नयी टीम बना रहा है, और मै रोहित को मौका देने के पक्ष में हु.

अब पहला टेस्ट जीतने के लिए भारत के पास काफी अच्छा मौका है, और तीसरे दिन ही भारत ये टेस्ट जीत सकता है.

Related Topics