वीरेंद्र सहवाग ने सचिन तेंदुलकर को लेकर साझा, कि ऐसी कहानी जिसके बाद से सचिन बन गए दुनिया के लिए भगवान | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

वीरेंद्र सहवाग ने सचिन तेंदुलकर को लेकर साझा, कि ऐसी कहानी जिसके बाद से सचिन बन गए दुनिया के लिए भगवान 

वीरेंद्र सहवाग ने सचिन तेंदुलकर को लेकर साझा, कि ऐसी कहानी जिसके बाद से सचिन बन गए दुनिया के लिए भगवान

भारत के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज रहे वीरेन्दर सहवाग ने इंटरनेशनल क्रिकेट में संन्यास लेने के बाद युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करने से पीछे नहीं पड़ रहे हैं। वीरेन्दर सहवाग हमेशा ही युवा भारतीय क्रिकेटरों के साथ-साथ और देशों के खिलाड़ियों को भी खेल को लेकर प्रेरित करते रहते हैं। सहवाग इस समय किंग्स इलेवन पंजाब के मुख्य कोच की भूमिका निभा रहे हैं। और कई युवा खिलाड़ियों के प्रेरणा स्त्रोत बने हुए हैं।

वीरेंद्र सहवाग ने सचिन तेंदुलकर को लेकर साझा, कि ऐसी कहानी जिसके बाद से सचिन बन गए दुनिया के लिए भगवान 1

क्रिकेट अकादमी का उद्घाटन किया

भारतीय टीम के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में से एक रहे वीरेंद्र सहवाग ने एक क्रिकेट अकादमी के उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लिया। वीरेंद्र सहवाग को इस दौरान युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करने के साथ साथ उनके माता-पिता से भी इनकों आगे ले जाने की मदद करने को लेकर बात की।  डेविड वार्नर ने तोड़ा विराट कोहली और वीरेंद्र सहवाग का रिकॉर्ड, बने विश्व के नम्बर 1 खिलाड़ी

सचिन हैं पृथ्वी के सबसे महान व्यक्ति

वीरेंद्र सहवाग ने इस कार्यक्रम में सचिन तेंदुलकर की बहुत तारीफ की। वीरेन्दर सहवाग ने कहा, कि “2003 में दक्षिण अफ्रीका में हुए विश्व कप के दौरान हमारी टीम बस से उतर रही थी। जहां बाहर एक विकलांग हमें जीत की बधाई देने के लिए इंतजार कर रहा था। पूरी टीम में से केवल सचिन ही उसके पास गए और हाथ मिलाया साथ ही ऑटोग्राफ भी दिया। सचिन के अलावा कोई भी खिलाड़ी विकलांग को हाय तक नहीं करता। लेकिन सचिन इस पृध्वी के सबसे विनम्र इंसान हैं और यहीं उनकी सफलता का राज है।”

खुद का आत्मविश्वास ना खोए

वीरेंद्र सहवाग ने युवा खिलााड़ियों को आत्मविश्वास के बारे में बताते हुए कहा, कि “जब आप अपना आत्मविश्वास खो देते है तो आप सबकुछ खो देते हैं। और जब आप आत्मविश्वास में होते हैं तो आप सबकुछ हासिल कर लेते हैं। जब मैं भारतीय टीम से बाहर हुआ था तो मैंने हार नहीं मानी। मुझे पता था कि मेरे अंदर बहुत हुनर है। मैं किसी भी गेंदबाजी आक्रमण के सामने बड़े रन मार सकता हूं। इसके बाद मैनें घरेलु क्रिकेट में बड़ी पारियां खेली और भारतीय टीम में वापसी की।”  रविवार को ही हो गयी अनुष्का शर्मा की सगाई लेकिन विराट से नहीं

सहवाग ने बताई अपनी डाइट

सहवाग को उनकी डाइट को लेकर पूछा गया इसको लेकर सहवाग ने कहा, कि “मैं एक सादे परिवार से आता हूं। मेरा परिवार उच्च प्राटिन वाला खाना जैसे चिकन और मछली को अफोर्ड नहीं कर सकता था। मैं आलू पाराठे को बहुत पसंद करता था। साथ ही मैं दिन में दो लीटर दूध भी पीता था। मेरे माता-पिता मुझसे कहते थे, कि कड़ी मेहनत करों सब कुछ पच जाएगा।”

Related posts