अपने दोहरे शतक के 8वें साल तो वीरेन्द्र सहवाग जड़ देते 300

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

हरभजन सिंह के अनुसार वीरेंद्र सहवाग वनडे क्रिकेट में बना सकते थे तिहरा शतक 

हरभजन सिंह के अनुसार वीरेंद्र सहवाग वनडे क्रिकेट में बना सकते थे तिहरा शतक

भारतीय क्रिकेट इतिहास में 8 दिसंबर का दिन बहुत ही खास माना जाता है। इस दिन की यादें ना केवल भारतीय क्रिकेट फैंस बल्कि पूरे क्रिकेट जगत के फैंस के जेहन में रहती हैं। इसी दिन वीरेंद्र सहवाग ने सचिन तेंदुलकर के 200 रनों के सबसे बड़े वनडे व्यक्तिगत स्कोर को तोड़ा था।

वीरेन्द्र सहवाग ने 8 दिसम्बर को जड़ा था वनडे में दोहरा शतक

विश्व क्रिकेट के सबसे खतरनाक सलामी बल्लेबाज की छवि बनाने वाले भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने साल 2011 में 8 दिसंबर के दिन वनडे क्रिकेट इतिहास का दूसरा दोहरा शतक जड़ते हुए सचिन तेंदुलकर को पीछे किया था।

हरभजन सिंह के अनुसार वीरेंद्र सहवाग वनडे क्रिकेट में बना सकते थे तिहरा शतक 1

वनडे क्रिकेट इतिहास का पहला दोहरा शतक सचिन तेंदुलकर के नाम है जिन्होंने 24 फरवरी 2010 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगाया था। जिसके बाद वीरेन्द्र सहवाग ने उस स्कोर को 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पीछे करते हुए 219 रन बनाने के साथ ही वनडे क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर बनाया था।

वीरेन्द्र सहवाग ने इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेली थी 219 रन की पारी

वीरेन्द्र सहवाग ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इंदौर के होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में 149 गेंदों में 219 रनों की पारी खेली। इस दौरान उनके बल्ले से जहां 25 चौके निकले तो वहीं 7 छक्के भी जड़े। वीरेन्द्र सहवाग के द्वारा खेली इस अभूतपूर्व पारी ने होल्कर स्टेडियम में समां बांध दिया।

हरभजन सिंह के अनुसार वीरेंद्र सहवाग वनडे क्रिकेट में बना सकते थे तिहरा शतक 2

वीरू की इस पारी के 8 साल हो चुके हैं। वैसे अब तक तो वनडे क्रिकेट में कई दोहरे शतक लग चुके हैं जिसमें भारत के ही रोहित शर्मा के नाम तीन दोहरे शतक हैं जो आज 264 रनों के व्यक्तिगत स्कोर के साथ वनडे इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर बना कर बैठे हैं।

भज्जी ने माना आज की तरह होते फील्डिंग रूल्स तो वीरू लगा देते 300 रन

लेकिन वीरेन्द्र सहवाग के साथी खिलाडी रहे भारत के स्पिन लीजेंड हरभजन सिंह ने बड़ी बात कही है। भज्जी ने दो-टूक अपने अंदाज में माना है कि वीरू अपने दोहरे शतक की 8वीं वर्षगांठ पर तो वनडे क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने की क्षमता रखते हैं।

इस बात की शुरुआत वीरेन्द्र सहवाग के द्वारा अपने दोहरे शतक की याद में किए गए इंस्टाग्राम पोस्ट के साथ हुई जिसमें वीरू ने फोटो के साथ कैप्शन में लिखा था कि “इंदौर के 2019 के सत्यापित 8 साल हो चुके हैं समय से ज्यादा तेजी से गेंद का इस्तेमाल किया गया।”

हरभजन सिंह के अनुसार वीरेंद्र सहवाग वनडे क्रिकेट में बना सकते थे तिहरा शतक 3

इस पर भज्जी ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए ट्विट कर लिखा कि “कल्पना करों कि उन दिनों हमेशा 5 फील्डरों के सर्कल में रहते गेंदबाजी की जाती तो वो वनडे में 300 भी बना लेते।”

Related posts