कर्नाटका के घरेलू मैच में अफरीदी के नाम का जर्सी पहन पहुँचा प्रसंशक, और फिर जो हुआ उससे सब रह गये दंग | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कर्नाटका के घरेलू मैच में अफरीदी के नाम का जर्सी पहन पहुँचा प्रसंशक, और फिर जो हुआ उससे सब रह गये दंग 

कर्नाटका के घरेलू मैच में अफरीदी के नाम का जर्सी पहन पहुँचा प्रसंशक, और फिर जो हुआ उससे सब रह गये दंग

असम में एक क्रिकेट मैच के दौरान एक क्रिकेट फेन पाकिस्तानी आल-राउंडर अफ़रीदी के नाम की जर्सी पहन मैदान पर पहुँचा जिसके बाद उसे जेल की हवा खानी पड़ी, इस पूरी घटना की जानकारी मिलने के बाद पाकिस्तानी आल-राउंडर बेहद आहत हैं.

यह भी देखे: विडियो : देखें कैसे चोटिल हुए भारतीय टीम के स्टार ऑल राउंडर रविन्द्र जडेजा

अफ़रीदी ने जंग न्यूज़पेपर से कहा, “इस तरह की घटना बेहद शर्मनाक हैं. यह दुःख की बात है कि खेल के साथ राजनीति की जा रही हैं”.

रिपोर्ट के अनुसार, सत्तारूढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की युवा शाखा के रिपन चौधरी की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ और स्थानीय पुलिस द्वारा युवक को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने युवक को भारतीय दंड संहिता की धारा120 (बी) और 294 के तहत गिरफ्तार किया गया था.

यह भी पढ़े: विडियो : रवीन्द्र जड़ेजा ने चेन्नई टेस्ट मैच में दिलाई 1983 विश्वकप फाइनल की याद

अफ़रीदी ने कहा, “इस तरह की घटनाओं से असहिष्णुता उजागर होता है और इसकी निंदा की जानी चाहिए. क्यूंकि जिस तरह से भारत में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के प्रशंसक है, उसी तरह पाकिस्तान में भी भारत क्रिकेट टीम के प्रसंशक हैं”.

“क्रिकेट प्रशंसकों को दोनों देशों में क्रिकेट प्रेमियों के रूप में देखा जाना चाहिए”

कुछ इसी तरह का मामला फ़रवरी में पाकिस्तान में भी देखने को मिला था जब एक पाकिस्तानी युवक ने भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली के समर्थन में भारतीय तिरंगा फहराया था, जिसके बाद उसे गिरफ़्तार कर लिया गया था.हालाँकि इस घटना के तुरंत बाद उस युवक को जमानत मिल गई थी, लेकिन पुलिस ने युवक पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया था. कुछ इसी तरह की घटना अब असम में देखने को मिली हैं.

यह भी पढ़े: चेन्नई टेस्ट : विडियो : मैदान पर अपना आपा खो बैठे लोकेश राहुल, किया अभद्र भाषा का इस्तेमाल

अफ़रीदी से पहले भी कई बड़े क्रिकेटर कह चुके है कि क्रिकेट को दोनों देशो के राजनीतिकरण से दूर रखना है और इसे खेल की तरह ही लेना चाहिए. वर्ष 2008 में मुंबई पर हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते में खटास आ गई थी. वर्ष 2008 से भारत और पाकिस्तान के बीच केवल एक द्विपक्षीय सीरीज देखने को मिली है, जोकि वर्ष 2012 में खेली गई थी.

Related posts