शाकीब अल हसन इंटरनेशनल क्रिकेट के बाद एमसीसी से भी हुए बैन

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

शाकीब अल हसन ने बैन लगने के बाद एमसीसी से भी तोड़ा नाता 

शाकीब अल हसन ने बैन लगने के बाद एमसीसी से भी तोड़ा नाता

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के अनुभवी खिलाड़ी शाकीब अल हसन पर आईसीसी का जोरदार हंटर चला है। बुकी के द्वारा संपर्क करने की जानकारी छुपाने के खुलासे के बाद शाकीब अल हसन को आईसीसी ने 2 साल के लिए इंटरनेेशनल क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया है।

शाकीब अल हसन पर बैन के बाद एमसीसी की सदस्यता खत्म

विश्व क्रिकेट के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर के रूप में माने जाने वाले शाकीब अल हसन से पिछले दो साल में तीन बार दीपक अग्रवाल नाम के बुकी के द्वारा संपर्क किया गया था।

शाकिब अल हसन

लेकिन उन्हें भ्रष्टाचार जैसे बड़े संगीन मामले से जुड़ी ये जानकारी छुपाने के लिए आईसीसी ने 2 साल के लिए बैन कर दिया। शाकीब अल हसन से इसके साथ ही एमसीसी की सदस्यता भी छुट गई है।

एमसीसी की सदस्यता से शाकीब ने दिया इस्तीफा

एमसीसी से मंगलवार को शाकीब अल हसन ने खुद पर लगे बैन के बाद बुधवार को इस्तीफा दे दिया है। इस पर एमसीसी ने अपने बयान में कहा कि “मेरीलबोन क्रिकेट क्लब आज इस बात की पुष्टि करता है कि अल हसन ने एमसीसी विश्व क्रिकेट समिति के साथ अपनी भागीदारी को छोड़ दिया है।”

राशिद खान

आपको बता दें कि एमसीसी एक ऐसी संस्था है जिसमें विश्व क्रिकेट के तमाम इंटरनेशऩल खिलाड़ियों के साथ ही अंपायर्स जुड़े हैं। जिसके लिए एक साल में दो बार खेल के मुद्दों पर चर्चा के लिए बैठक की जाती है। 2020 में एमसीसी की बैठक श्रीलंका में प्रस्तावित है।

एमसीसी ने कहा, हमें शाकीब को खोने का है अफसोस

शाकीब अल हसन एमसीसी के साथ साल 2017 में जुड़े थे जिसके बाद वो भी इसकी बैठक में दो बार सिडनी और बैंगलुरू की बैठक में भाग ले चुके हैं।

शाकीब अल हसन ने बैन लगने के बाद एमसीसी से भी तोड़ा नाता 1

उनके हटने को लेकर एमसीसी ने आगे कहा कि हमें शाकीब को कमेटी से खोने का अफसोस है, जहां उन्होंने पिछले कुछ सालों में शानदार योगदान दिया है। वहीं विश्व किक्रेट समिति के अध्यक्ष माइक गेटिंग ने ककहा कि क्रिकेट के आत्मा के सरंक्षण के रूप में हम उनके इस्तीफे का समर्थन करते हैं और मानते हैं कि ये सही फैसला है।

Related posts