शिवम दुबे का अविश्वसनीय कैच लेने वाले आफिफ हुसैन इस खिलाड़ी को मानते हैं अपना आदर्श | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

शिवम दुबे का अविश्वसनीय कैच लेने वाले आफिफ हुसैन इस खिलाड़ी को मानते हैं अपना आदर्श 

शिवम दुबे का अविश्वसनीय कैच लेने वाले आफिफ हुसैन इस खिलाड़ी को मानते हैं अपना आदर्श

बांग्शालादेश के सबसे सफल ऑल राउंडर शाकिब अल हसन ने अपनी टीम की भारत पर यादगार जीत के बाद बांग्लादेश टीम को एक बधाई संदेश भेजा था उसी पर चर्चा करते हुए आफिफ हुसैन ने स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत करने के दौरान कहा कि वह बचपन से ही बांग्लादेशी ऑलराउंडर शाकिब को अपना आदर्श मानते हैं।

उन्होंने कहा शाकिब भाई ने पूरी टीम को बधाई संदेश भेजा है। यह दिखता है कि टीम में न रहकर भी वो टीम के बारे में ही सोचते रहते हैं.

शाकिब पर बोले आफिफ

प्रतिभाशाली बांग्लादेशी आलराउंडर आफिफ हुसैन ने बांग्लादेश के सबसे प्रमुख ऑलराउंडर शाकिब अल हसन पर बात की, जो इस दौरे पर उनका नेतृत्व करने वाले थे। शाकिब को अंतरर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भ्रष्टाचार विरोधी कानून तोड़ने के आरोप में भारतीय दौरे से ठीक पहले दो साल का प्रतिबंध लगाया था।

आफिफ ने किया था शानदार प्रदर्शन

बांग्लादेश के हरफनमौला खिलाड़ी आफिफ हुसैन रविवार को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में ऐतिहासिक T20I मैच का हिस्सा थे, जिसमें तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल करने के लिए बांग्लादेश ने सात विकेट से जीत दर्ज की। यह बांग्लादेश की भारत पर टी 20 प्रारूप में पहली जीत थी और 20 वर्षीय आफिफ ने शिवम दूबे का शानदार कैच लिया था और तीन ओवरों में सिर्फ 11 रन दिए।

श्रीलंका के खिलाफ किया था डेब्यू

आफिफ हुसैन ने पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्होंने अब तक एक अर्धशतक बनाते हुए छह T20I खेले हैं और 11.50 की औसत से चार विकेट लिए हैं। उन्होंने कहा कि श्रृंखला में पहली जीत से बांग्लादेशी टीम का विश्वास बढ़ा है.

बांग्लादेशी टीम ने तमीम इकबाल जैसे अनुभवी खिलाड़ी के बिना जीत हासिल की. इस मैच में टीम के अनुभवी विकेटकीपर-बल्लेबाज मुस्फिकुर रहीम ने 43 गेंदों पर 60 रनों की नाबाद पारी खेली और बांग्लादेश ने 149 रनों के लक्ष्य को तीन गेंद शेष रहते ही हासिल कर लिया।

टीम के आत्मविश्वास से टीम को होगा फायदा

आफिफ ने कहा कि बांग्लादेश के खिलाड़ी शाकिब की अनुपस्थिति को अपने अच्छे खेल से पूरी करने कोशिश कर रहे थे. हमारी टीम का आत्मविश्वास काफी ऊँचा है, जिसका फायदा हमें दुसरे मैच में जरूर मिलेगा. दूसरा मैच गुरुवार को राजकोट में खेला जाएगा, जबकि नागपुर 10 नवंबर को फाइनल मैच की मेजबानी करेगा।

Related posts

Leave a Reply