भारतीय टीम के लिए टी20 सीरीज के सभी मैच नहीं खेल पाएंगे शमी और बुमराह, जाने क्या है वजह 1

भारतीय क्रिकेट टीम संयुक्त अरब अमीरात में खेले गए आईपीएल के 13वें सीजन के बाद यूएई से होते हुए सीधे ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर पहुंची है। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर एक के बाद एक तीनों फॉर्मेट की सीरीज खेलेगी। टीम कुल 69 दिन के दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंची है। जहां खिलाड़ियों को अपनी फिटनेस को कायम रखना एक महत्वपूर्ण कड़ी होगा।

भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया में खेलना हैं लंबा दौरा

ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर आज से तीन मैचों की वनडे सीरीज का आगाज हो चुका है। वनडे सीरीज के खत्म होने के बाद दोनों ही टीमों के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जाएगी। तो इसके बाद टीमें टेस्ट सीरीज के लिए आमने-सामने होंगी।

टी20 विश्व कप

टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम को अपने प्रमुख खिलाड़ियों में कुछ नामों को मिस करना होगा। जिसमें कप्तान विराट कोहली पहले टेस्ट मैच के बाद नहीं खेलेंगे। तो वहीं रोहित शर्मा और ईशांत शर्मा(पूरे दौरे से बाहर) भी नहीं खेलेंगे।

मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह नहीं खेलेंगे सभी टी20 मैच

टेस्ट सीरीज में ईशांत शर्मा के नहीं होने से गेंदबाजी की सारी जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी पर आ गई हैं। मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ये दो गेंदबाज भारतीय टीम के लिए इस पूरे दौरे पर फिट रहने बहुत ही जरूरी है। ऐसे में इन्हें लेकर खास ध्यान दिया जा रहा है।

भारतीय टीम के लिए टी20 सीरीज के सभी मैच नहीं खेल पाएंगे शमी और बुमराह, जाने क्या है वजह 2

तभी तो भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने साफ किया है कि मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह को टी20 सीरीज में सभी मैचों में मौका नहीं मिलेगा। इन्हें मैनेज करने के लिए रेस्ट भी दिया जाएगा। विराट कोहली ने गुरुवार को ये बातें साफ की।

कप्तान कोहली ने किया साफ, वर्कलोड को मैनेज करना जरूरी

विराट कोहली ने कहा कि “आप ये देखना चाहते हैं कि लोग विभिन्न परिस्थितियों पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं। आप वर्कलोड को मैनेज करना चाहते हैं, युवाओं को मौका देना चाहते हैं ताकि एक संतुलित टीम बनाई जा सके। इसलिए गेंदबाजों के वर्कलोड को मैनेज करना हमारे लिए महत्वपूर्ण है।”

भारतीय टीम के लिए टी20 सीरीज के सभी मैच नहीं खेल पाएंगे शमी और बुमराह, जाने क्या है वजह 3

“हमनें उन चीजों पर चर्चा की है ताकि युवाओं को मौका दिया जाए। वे खेलने के लिए उत्सुक और इंतजार कर रहे हैं। आस्ट्रेलिया में खेलने के लिए एक बेहतरीन जगह है। ये उनके लिए अपने खुद के खेल के बारे में कुछ नया सीखने, आत्मविश्वास को बढ़ाने और इसे एक अलग स्तर पर ले जाने का मौका है। उनके लिए विकास करना महत्वपूर्ण है और हमारे लिए उन्हें मौका देना महत्वपूर्ण है।”