/

भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज के दुसरे मैच से ठीक पहले इस दिग्गज ने छोड़ा टीम का साथ, पुरे सीरीज से रहेगा नदारद

महान लेग स्पिन गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के शेन वार्न ने अपने समय में दुनिया के बड़े-बड़े बल्लेबाजों को नचाया है। इंटरनेशनल क्रिकेट में शेन वार्न के दौर में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने सफलता के खूब झंडे गाड़े है। महान कप्तान स्टीव वॉ की कप्तानी  की सफलता में लेग स्पिन गेंदबाज शेन वार्न के योगदान को तो कभी नहीं भुलाया जा सकता।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

वहीं शेन वार्न इन दिनों बीसीसीआई और स्टार स्पोर्ट्स के अनुबंध में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में कमेंटेटर की भूमिका में थे, लेकिन शेन वार्न पहले टेस्ट मैच के बाद कमेन्ट्री पैनल से हट रहे है। शेन वार्न ने कमेंट्री पैनल से हटने का कारण अपना व्यक्तिगत कारण बताया है।भारत दौरे पर मिचेल स्वीप्सन के काम आ सकते हैं, शेन वार्न से सीखे हुए गुर

शेन ने पैनल से हटने के साथ ही कहा कि, “मुझे अपने व्यक्तिगत और पेशेवर कारणों के कारण  लांस एन्जिल्स जाना पड़ रहा है, जिस कारण मै भारत और  ऑस्ट्रेलिया के बीच बाकी बचे मैचों में कमेन्ट्री नहीं कर पाऊंगा। बीसीसीआई और स्टार स्पोट्स को धन्यवाद देता हूं कि उन्होने मुझे कमेंटेटर के तौर पर चुना।”

पिछले कई सालों से कमेंट्री की दुनिया में कदम रखने वाले 47 साल के शेन वार्न ने कहा कि, “मुझे पूरा विश्वास है कि सीरीज में बाकी बचे मैच बहुत ही रोमांचक होने वाले है। भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमे इस सीरीज को जीतने की पूरी कोशिश करेंगे और साथ ही मैं दोनों टीमों को शुभकामनाएं देता हूं कि वो आगे के मैचों में अच्छा करें।”पहले टेस्ट के लिए शेन वार्न ने किया ऑस्ट्रेलियन टीम का ऐलान

वार्न  ने संयुक्त राज्य अमेरिका के दौरे पर जाने से ठीक पहले कहा कि, “भारत में आना मेरे लिए हमेशा अानंददित कर देने वाला पल रहा है और मैं यहां खूब एन्जॉय करता हूं साथ ही भारत के लोगो का प्यार भी मुझे मिलता रहता है। मैं आगे इस सीरीज को जरूर मिस करूंगा।”शेन वॉर्न की बेटी की पार्टी के दौरान की फ़ोटो हुई वायरल

आपको बता दे ंकि शेन वार्न ने अपने करियर में 709 टेस्ट विकेट और 293 वनडे विकेट हासिल किए है और वो टेस्ट क्रिकेट में अपने देश के सबसे कामयाब गेंदबाज है।