शेफाली वर्मा

भारतीय महिला क्रिकेट की युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने रविवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ टी 20 सीरीज में अर्धशतक लगाकर इतिहास रच दिया. 15 साल 285 दिन की उम्र में शेफाली ने टीम इंडिया के लिए पहला अर्धशतक बनाया. इसी के साथ युवा खिलाड़ी ने सचिन तेंदुलकर और रोहित शर्मा का रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

शेफाली वर्मा ने तोड़ा सचिन का रिकॉर्ड

सचिन तेंदुलकर

भारतीय महिला क्रिकेट टीम बुलंदियों की ओर अग्रसर है. मौजूदा वक्त में वुमेन्स टीम इंडिया वेस्टइंडीज दौरे पर है. जहां टीम इंडिया वनडे सीरीज पर कब्जा जमाने के बाद अब टी 20 सीरीज खेल रही है.

रविवार को खेले गए पहले टी 20 मुकाबले में युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने 49 गेंदों पर 73 रनों की तेज पारी खेली. शेफाली की इस पारी ने सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया है.

असल में भारत के लिए सबसे कम उम्र में अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड अब तक सचिन के नाम था. सचिन ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक टेस्ट क्रिकेट में लगाया था। जब वह 16 साल 214 दिन के थे.

टी 20 में भारत के लिए सबसे कम उम्र में लगाया अर्धशतक

रोहित शर्मा

टी 20 फॉर्मेट की बात करें तो अब तक सबसे कम उम्र में अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के नाम था. ये रिकॉर्ड रोहित ने सितंबर 2007 में टी20 क्रिकेट का पहला अर्धशतक बनाया था। तब रोहित की उम्र 20 साल थी.

मगर अब शेफाली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टी 20 मैच में अर्धशतक लगाकर ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है. विश्व स्तर पर अर्धशतक बनाने वाली सबसे युवा खिलाड़ी यूएई की इगोडो हैं. उन्होंने महज 15 साल 267 दिन की उम्र में ये रिकॉर्ड अपने नाम किया था.

शेफाली की आतिशी पारी ने जीताया मैच

शेफाली

वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज को टीम इंडिया अपने नाम कर चुकी है. अब 5 टी 20 मैचों की सीरीज में रविवार को खेले गए पहले मैच में भी टीम इंडिया ने जीत हासिल कर ली है. शेफाली वर्मा 73, स्मृति मंधाना 67 की अर्धशतकीय पारी की मदद से टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाडी करते हुए 4 विकेट के नुकसान पर 185 रन बनाए.

जवाब में वेस्टइंडीज भारत की सधी हुई गेंदाबजी के सामने घुटने टेकती नजर आई. लगातार विकेट खोते हुए टीम 20 ओवर के खेल में 9 विकेट गंवाकर 101 रन ही बना सकी. परिणामस्वरूप टीम इंडिया ने 84 रन से मैच जीत लिया. 73 रन की तेज पारी खेलने के लिए शेफाली को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला.