….. तो अब खत्म हो जायेगा ऑस्ट्रेलिया का विश्व क्रिकेट से दबदबा?????

SAGAR MHATRE / 24 December 2015

जब माईकल क्लार्क ने अॉस्ट्रेलिया के लिए अपना पदार्पण किया, तब अॉस्ट्रेलिया टीम को हराना एक सपने जैसा था, और कोई भी टीम उनको हराने के बारे में भी सोच नहीं सकती थी.

जब इस साल अॉस्ट्रेलियाई टीम ऐशेज हारी, तब उनके कई खिलाडियों पर सवाल उठे, और माईकल क्लार्क समेत कई खिलाडियों ने संन्यास तक ले लिया. और इस हार के बाद सभी ने कहा कि, अॉस्ट्रेलिया टीम में अब पहले जैसी बात नहीं रहीं.

एशेज के दौरान रिकी पॉन्टिंग ने कहा था कि, इस टीम में से 8 से 9 खिलाडी संन्यास लेंगे, और ऐसा ही कुछ हुआ. एशेज हार के बाद, माईकल क्लार्क, क्रिस रोजर्स, शेन वॉटसन, ब्रैड हैडिन, रायन हैरिस, मिशेल जॉनसन ये सब रिटायर हो गये.

 

क्लार्क ने अपनी जगह उस महान अॉस्ट्रेलियाई टीम में बनाई, जिनके साथ खेलना काफी बडी बात थी. क्लार्क एक महान टेस्ट खिलाडी बने, जिनके नाम कुल 28 टेस्ट शतक है. उन्होंने अॉस्ट्रेलिया को वनडे का चैम्पियन भी बनाया.

अॉस्ट्रेलिया क्रिकेट में ये पहले से रहा है कि, कोई भी खिलाडी खुद के मन से नहीं जाता, उनको क्रिकेट अॉस्ट्रेलिया का फैसला सुनना पडता है. और अब हम ये कह सकते है कि, ये अॉस्ट्रेलिया क्रिकेट में बदलाव के संकेत है.