सोमवार को चयनकर्ताओं ने न्यू ज़ीलैण्ड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज़ के लिए टीम का एलान किया. टीम में वेस्ट इंडीज़ दौरे से केवल दो बदलाव किये गए है, स्टुअर्ट बिन्नी और शार्दुल ठाकुर टीम में अपनी जगह बरकरार रखने में नाकाम रहे. इन दो खिलाड़ियों के अलावा वही टीम जिसने वेस्ट इंडीज का दौरा किया था, न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ 22 सितम्बर से शुरू होने वाली टेस्ट श्रृंखला के लिए चुनी गयी है.

यह भी पढ़े : न्यूज़ीलैण्ड के भारतीय दौरे के लिए टीम घोषि, लोग बीसीसीआई से नाराज़

ऐसे अटकलें लगाई जा रही थी कि भारत के अनुभवी सलामी बल्लेबाज़ गौतम गंभीर को उनके मौजूदा प्रदर्शन के बलबूते पर टीम इंडिया में एक बार फिर जगह मिल जाएगी. लेकिन चयनकर्ताओं ने सलामी बल्लेबाज़ी के लिए शिखर धवन को एक और मौका दिया है.

दुलीप ट्राफी के फाइनल में बीसीसीआई ने धवन समेत चार और खिलाड़ियों को खलेने का मौका दिया था जिससे यह खिलाड़ी न्यूज़ीलैण्ड सीरीज़ से पहले टीम में अपनी जगह बना सके, लेकिन हुआ इसके बिलकुल उलट. शिखर धवन की बात करे तो उनकी पिछली पांच पारिया बेहद निराशाजनक रही है. वेस्ट इंडीज़ दौरे पर केवल एक पारी में धवन 50 का आंकड़ा पार कर पाए थे और उसके बाद से अगर हम उनकी दुलीप ट्राफी के फाइनल में खेली गयी पारी भी जोड़ दे तो धवन फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अपनी आख़िरी 4 पारियों में 27,1,26,29 (83) रन ही बना पाए है.

यह भी पढ़े : न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ 15 सदस्यों की भारतीय टीम घोषित

जबकि गंभीर ने दुलीप ट्राफी में खेली गयी 4 पारियों में चार अर्धशतक लगाए है, जिसमे दो बार गंभीर 90 और  94 के स्कोर पर आउट हुए. अगर मौजूदा फॉर्म की बात की जाये तो गंभीर को मौका मिलना चाहिए था. लेकिन शायद चयनकर्ताओं के मुताबिक घरेलू क्रिकेट में रन बनाना ही काफी नहीं होता.

रोहित शर्मा एकदिवसीय और टी-ट्वेंटी क्रिकेट में भारत के लिए एक मैच विनर साबित हुए है, लेकिन अपनी प्रितिभा के लिए प्रसिद्ध रोहित शर्मा टेस्ट मैच में अपना हुनर नहीं दिखा सके है. रोहित ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत सचिन तेंदुलकर के आख़िरी दो टेस्ट मैच में की थी और लगातार दो शतक जड़ कर दिखाया था कि वह टेस्ट मैच में भी भारत के लिए अहम साबित हो सकते है.

वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के बाद रोहित लगातार टेस्ट मैच में फ्लॉप रहे. इंग्लैंड का दौरा हो या ऑस्ट्रेलिया या फिर हाल ही में वेस्ट इंडीज़ का दौरा, रोहित के बल्ले से टेस्ट मैच में रन निकले ही नहीं. चयनकर्ताओं ने रोहित पर भरोसा दिखाते हुए रोहित को एक और मौका दिया जिकसी काफी आलोचना भी हुई, हो सकता है टेस्ट मैच में यह रोहित के लिए आख़िरी मौका हो क्यूंकि चयनकर्ता हमेशा केवल प्रतिभा के बल पल चयन नहीं कर सकते. रोहित को अपनी प्रतिभा प्रदर्शन में भी तब्दील करनी होगी.

यह भी पढ़े : पांच कारण जिनकी वजह से गौतम गंभीर को नहीं मिली टीम में जगह

भारतीय टीम न्यू ज़ीलैण्ड दौरे के लिए : –

विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, शिखर धवन, लोकेश राहुल, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, रिद्धिमन साहा, रविचंद्रन अश्विन, रविन्द्र जडेजा, इशांत शर्मा, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, अमित मिश्रा, भुवनेश्वर कुमार.



  • SHARE
    सभी खेलों में दिलचस्पी है लेकिन सबसे पसंदीदा खेल क्रिकेट, पसंदीदा खिलाड़ी विराट कोहली और नोवाक जोकोविच.

    Related Articles

    टेटे : साथियान-सनिल ने थाईलैंड ओपन में जीता रजत

    बैंकॉक, 21 मई; भारत के शीर्ष स्तरी टेबल टेनिस पुरुष युगल जोड़ी साथियान गनासेकरन और सनिल शेट्टी ने थाईलैंड ओपन टूर्नामेंट में रजत पदक जीता।...

    चेन्नई समेत पूरा देश देता है धोनी को सम्मान, लेकिन ये क्या कह गये...

    भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का कद क्रिकेट की दुनिया में कितना बड़ा ये किसी को बताने की जरूरत नहीं है।...

    बैडमिंटन : उबर कप के दूसरे ग्रुप मैच में जीता भारत

    बैंकॉक, 21 मई; उबर कप में खराब शुरुआत के बाद सोमवार को खेले गए ग्रुप-ए के दूसरे मैच में भारतीय टीम को सफलता हासिल हुई...

    दिल्ली डायनामोज के सहायक कोच बने मृदुल बनर्जी

    दिल्ली, 21 मई; इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) क्लब दिल्ली डायनामोज ने सोमवार को मृदुल बनर्जी को क्ल्का सहायक कोच नियुक्त किया। बनर्जी क्लब में शक्ति...

    वीडियो : महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई से फील्डिंग के दौरान हुई गलती, रविन्द्र...

    आईपीएल का 11 वां सीजन अब अपने अंतिम चरण में हैं. रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स और किंग्स इलेवेन पंजाब के बीच लीग का...