Shikhar Dhawan

भारत की इस युवा टीम ने श्रीलंका दौरे पर अपनी पहली सीरीज़ फतेह कर ली है. शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की अगुवाई वाली इस युवा टीम इंडिया (Team India) ने श्रीलंका को तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मैच में 3 विकेट से विकेट हराकर 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है. इस मैच में श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया था. जहां मेजबान ने भारत को 276 रनों के लक्ष्य दिया था.

बेशक भारत ने इस मुकाबले को जीत लिया हो, लेकिन कप्तान शिखर धवन (Shikhar Dhawan) भी इस बात को कहने में नहीं हिचक रहे हैं कि भारत के लिए एक समय में इस मुकाबले को जीत पाना काफी कठिन हो गया था, मगर इन युवा भारतीय खिलाड़ियों ने जिस तरह अपनी प्रतिभा को दिखाया वो वाकई काबिलेतारीफ है.

सभी खिलाड़ियों में नजर आया आत्मविश्वास- Shikhar Dhawan

ind vs sl shikhar dhawan made a unique record in debut captaincy became the oldest captain avd | IND vs SL : शिखर धवन बने भारत के सबसे उम्रदराज कप्तान, बदला 62

भारत के लिए मुकाबले में बेशक शिखर धवन (Shikhar Dhawan) कप्तानी पारी नहीं खेल पाए, लेकिन वो इस दौरान अपने बाकी खिलाड़ियों की तारीफ करने से नहीं चूके हैं. दरअसल इस मुकाबले को जीतने के बाद कप्तान धवन ने अपने खिलाड़ियों के आत्मविश्वास को लेकर काफी बात की है, जिसमें उन्होनें धवन ने कहा कि..

“मुझे लगता है कि आज कि विकेट पहले मैच के मुकाबले ज्यादा बैहतर थी और हमारे खिलाड़ियों ने श्रीलंका को बड़ा स्कोर करने से रोका है, हमारे स्पिन गेंदबाजो ने भी पूरे जज़बे के साथ गेंदबाजी की और तेज गेंदबाजों ने अफनी अच्छा लाईन और लेंथ की मदद सेे बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर नहीं करने दिया, हमारी बल्लेबाजी की शुरूआती अच्छी नहीं रही और देखा जाए तो यह इन युवा खिलाड़ियों के लिए सीखने का अच्छा मौका भी है कि हर दिन खेल एक जैसा नहीं रहता है.”

“इन परिस्तिथयों से यह सभी खिलाड़ी सीखेंगे कि नई-नई योजनाएं ऐसी परिस्तिथियों में कैसे बनाई जाती हैं. जैसे आज मनीष और सूर्यकुमार ने बैटिंग की वो वाकई तारीफ के काबिल है, हालांकि, मनीष जिस तरह आउट हुए वो काफी उनके लिए काफी बुरा था, वहीं जैसे क्रुणाल मे मिडिल ऑडर में बल्लेबाजी की शैली दिखाई, फिर उसके बाद दीपक और भुवनेश्वर ने जिस तरह गेम को और परिस्थितियों को पढ़ा और अपने शॉट्स खेले वो काफी बेहतरीन थी.”

“मैं मानता हूं जिस तरह श्रीलंका ने अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी में प्लान तैयार किए थे वो वाकई बेहतरीन थे, इनके खिलाड़ियों ने काफी कोशिश की, लेकिन मुझे खुशी है कि हम यह मुकाबले को जीत गए हैं. यहां हर गेम से सीखने को मिलने वाला है और हम उम्मीद करेंगे इसे सीखें, क्योंकि हम हर बार अपना सर्वश्रेष्ट्र प्रदर्शन दिखाना चाहते हैं.”

For decades, cricket has been considered the gentleman’s game. Fine pitch, critical bouncers, twist and turns, sweeps and lofts and running shoes all around. A game of elite class as well as exciting...