//

विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ की तुलना करते हुए शोएब अख्तर ने इस खिलाड़ी को बताया सर्वश्रेष्ठ

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ इस समय दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाते हैं। स्मिथ ने करीब 18 महीने बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी करते हुए शानदार बल्लेबाजी की है। अभी उनका बल्लेबाजी औसत टेस्ट क्रिकेट में 63 का है वहीं विराट ने 53 की औसत से रन बनाये हैं।

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

दोनों की हो रही तुलना

विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ की तुलना करते हुए शोएब अख्तर ने इस खिलाड़ी को बताया सर्वश्रेष्ठ 1

स्टीवन स्मिथ की शानदार बल्लेबाजी के बाद एक बार फिर विराट और उनकी तुलना होने लगी है। कई लोग विराट कोहली को वनडे में बेहतर बता रहे हैं लेकिन टेस्ट में उनके अनुसार स्मिथ ज्यादा बेहतर बल्लेबाज हैं।

टेस्ट क्रिकेट में 100 से ज्यादा पारियां खेलने वाले बल्लेबाजों में स्मिथ का औसत सबसे बेहतरीन है। वहीं विराट कोहली क्रिकेट इतिहास के एकमात्र बल्लेबाज हैं, जिन्होंने तीनों से फॉर्मेट में 50 से ज्यादा की औसत से रन बनाये हैं।

शोएब अख्तर ने दी प्रतिक्रिया

विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ की तुलना करते हुए शोएब अख्तर ने इस खिलाड़ी को बताया सर्वश्रेष्ठ 2

पाकिस्तान के दिग्गज तेज गेंदबाज ने विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ की तुलना पर प्रतिक्रिया दी है। स्मिथ की ऐसी बल्लेबाजी के बाद भी उन्होंने विराट को बेहतर बताया। पहले भी कई मौकों पर वह विराट को इस समय का सबसे बेहतरीन बल्अलेबाज बता चुके हैं। अपने यूट्यूब चैनल के वीडियो में उन्होंने कहा

“विराट कोहली के आंकड़ें खुद गवाही दे रहे हैं। स्मिथ बड़े खिलाड़ी हैं और उम्मीद है कि लम्बे समय तक यह फॉर्म बरक़रार रखेंगे। लेकिन पिछले 9 सालों में विराट कोहली का प्रदर्शन उन्हें काफी ऊपर ले जाता है। वह स्टाइलिश खिलाड़ी हैं और पूर्व पैकेज भी है।”

स्मिथ की तारीफ भी की

विराट कोहली और स्टीवन स्मिथ की तुलना करते हुए शोएब अख्तर ने इस खिलाड़ी को बताया सर्वश्रेष्ठ 3

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाने की वजह से शोएब अख्तर ने उनकी तारीफ की है। इसके साथ ही उन्होने कहा कि वह ऐसे बल्लेबाजी जारी रखते हैं तो महान खिलाड़ी बन जायेंगे। अख्तर ने कहा

“अगर स्मिथ अगले तीन साल तक इस फॉर्म को जारी रखते हैं, तो वह सबसे महान होंगे। और जिस तरह से उन्होंने बर्मिंघम में टेस्ट जीत के लिए ऑस्ट्रेलिया को जीत दिलाई, वह बेहतरीन था।”