रोहित शर्मा की शानदार शतकीय पारी के बाद शोएब अख्तर ने किया बड़ा खुलासा

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

शोएब अख्तर ने बताया रोहित शर्मा का निकनेम, साथ ही उनके टेस्ट करियर के लिए की बड़ी भविष्यवाणी 

शोएब अख्तर ने बताया रोहित शर्मा का निकनेम, साथ ही उनके टेस्ट करियर के लिए की बड़ी भविष्यवाणी

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत होते ही रोहित शर्मा छा गए। टॉस जीतकर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। मैच के पहले दिन बारिश की वजह से सिर्फ 59.1 ओवर का ही खेल हो पाया और भारत ने बिना किसी नुकसान के 202 रन बना लिए हैं। रोहित शर्मा 115 और मयंक अग्रवाल 84 रन बनाकर खेल रहे हैं। अब पाकिस्तान के दिग्गज शोएब मलिक ने रोहित को निकनेम दिया है…

शोएब अख्तर ने रोहित शर्मा को दिया था निकनेम

रोहित शर्मा

पहले टेस्ट मैच में रोहित शर्मा 115 पर पहले दिन नॉटआउट रहे। बतौर ओपनर उन्होंने अपने पहले मैच में ही शतक जड़ दिया। इसके बाद चारों तरह रोहित की तारीफ सुनाई दे रही है। इसी क्रम में पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपने यू ट्यूब चैनल पर बताया कि कैसे उन्होंने 2013 में रोहित की क्षमता का एहसास कर लिया था।

वीडियो में उन्होंने कहा

 मैंने रोहित शर्मा से उसका नाम पूछा और फिर उसके आगे आगे जी जोड़कर ग्रेट रोहित शर्मा करने के लिए कहा था क्योंकि मेरे हिसाब से उनसे बड़ा कोई बल्लेबाज नहीं है।

इसके बाद उन्होंने रोहित को सलाह देते हुए कहा

अपने अंदर विश्वास लाने की जरूरत है क्योंकि इसी के कारण तुम अपनी क्षमताओं का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हो।

रोहित बना सकते हैं 1000 रन

रोहित शर्मा

अख्तर ने भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ जैसे आधुनिक समय के महान खिलाड़ियों के उदाहरणों देते हुए कहा, कि ये खिलाड़ी पूरे कॉन्फिडेंस के साथ खेलते हैं और टेस्ट क्रिकेट में भी अपना नेचुरल गेम खेलते हैं। अख्तर का मानना ​​है कि रोहित के पास खेलने की ताकत है जो चल रही साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में दोहरा शतक बनाकर भविष्य में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में लगभग 1000 रन बना सकता है।

रोहित ने बताया अपनी बल्लेबाजी का राज़

रोहित शर्मा
क्रेडिट बीसीसीआई

पहले दिन का मैच खत्म होने के बाद रोहित शर्मा ने अपनी बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए

“मैं खुश हूँ कि प्लान हमारे अनुसार गया। इन पिचों पर सेट होने के बाद आप अपनी गलती से ही विकेट देते हैं। हम ऑस्ट्रेलिया में थे तभी मुझे लगा की टेस्ट में सलामी बल्लेबाजी का मौका मिल सकता है।

वेस्टइंडीज में ही मैनेजमेंट ने कहा था कि भारत में मैं ओपनिंग करूंगा। इसके बाद मैंने तैयारी शुरू कर दी थी। अभ्यास मैच अच्छा नहीं रहा लेकिन अभ्यास लगातार कर रहा था।”

Related posts