महेंद्र सिंह धोनी ने विराट कोहली के चैरिटी डिनर में किया उस गेंदबाज़ का खुलासा, जिससे उन्हें लगता था सबसे ज्यादा डर 1

इंग्लैंड एंड वेल्स में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का शानदार आयोजन चल रहा है, रविवार को ही भारत ने पाकिस्तान को एक महामुकाबले में डकवर्थ लुईस नियम के तहत 124 रनों से हरा दिया था. बर्मिंघम में पाकिस्तान पर जीत हासिल करने के एक दिन बाद भारतीय टीम ने एक भव्य रात्रिभोज में भाग लिया, जिसका उद्घाटन भारतीय कप्तान विराट कोहली ने किया. इस रात्रिभोज का उद्देश्य चैरीटी के लिए किया गया था. इस रात्रिभोज में कोचिंग स्टाफ के साथ पूरी भारतीय टीम शामिल थी.विराट-धोनी नहीं बल्कि ग्लेन मैकग्रा के अनुसार ये 2 भारतीय खिलाड़ी जीतेंगे भारत के लिए चैम्पियन्स ट्राफी 2017

इस भव्य रात का खाना प्रसिद्ध कमेंटेटर और मेजबान एलन विल्किंस द्वारा आयोजित किया गया था. इस पूरे कार्यक्रम में विल्किंस, खेल से जुड़े कई पहलुओं पर  भारतीय टीम के सदस्यों से पूछताछ कर रहे थे और इसी मौके पर उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से दो बहुत ही दिलचस्प सवाल पुछ डाले. महेंद्र सिंह धोनी ने भी एलन विल्किंस को निराश ना करते हुए दोनों सवालो के बखूबी से जवाब दे डाले.

ये किया पहला सवाल विल्किंस ने धोनी से 

Wedding Reception Of Indian Cricketer Yuvraj Singh And Bollywood Actor Hazel Keech : News Photo

एलन विल्किंस  –  आपको अपने करियर के दौरान सबसे ज्यादा खतरनाक तेज गेंदबाज कौन लगा.

धोनी –  अगर मुझे एक तेज गेंदबाज का नाम देना है जो मेरे करियर के दौरान मुझे खेलने में सबसे कठिन लगा तो वो शोएब अख्तर है. वो बहुत ज्यादा तेज थे. इसलिए उनके खिलाफ बल्लेबाजी करना थोड़ा मुश्किल लगा था.

ये था दूसरा सवाल विल्किंस का 

महेंद्र सिंह धोनी ने विराट कोहली के चैरिटी डिनर में किया उस गेंदबाज़ का खुलासा, जिससे उन्हें लगता था सबसे ज्यादा डर 2

एलन विल्किंस  –  आपने इतने साल कप्तानी की है. तो क्या आपको डकवर्थ-लुईस नियम के बारे में पता है.

धोनी – मैं सच बताऊ तो मुझे इस नियम के बारे में बिलकुल भी पता नहीं है. और मुझे नहीं लगता की आईसीसी भी डकवर्थ-लुईस नियम को समझती है.

खेल रहे है विकेटकीपर-बल्लेबाज के तौर पर

India v New Zealand - ICC Champions Trophy Warm-up : News Photo

2007 में टी20 वर्ल्ड कप और 2011 में भारत को वनडे वर्ल्ड कप जिताने वाले खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी ने वनडे और टी20 टीम की कप्तानी छोड़ दी है. हालांकि, वह एक विकेटकीपर-बल्लेबाज के तौर पर टीम में खेल रहे है. धोनी ने 199 वनडे और 72 टी20 मैचों में कप्तानी की है उन्होंने 30 दिसंबर 2014 को टेस्ट क्रिकेट से अचानक संन्यास ले लिया था.पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले विराट कोहली ने दी पाकिस्तान को चेतावनी, लेकिन इस बात पर बरक़रार रखी चुप्पी

रहे है सबसे सफल कप्तान

कप्तान के तौर पर एम.एस धोनी का रिकॉर्ड  शानदार रहा है. सर्वाधिक वनडे मैचों में कप्तानी के मामले में रिकी पोटिंग (ऑस्ट्रेलिया) और स्टीफन फ्लेमिंग (न्यूजीलैंड) के बाद धोनी तीसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 199 वनडे मैचों में टीम की कप्तानी करते हुए 110 में जीत दिलाई, जबकि 74 मैचों में हार का सामना किया. 4 मैच टाई रहे और 11 का कोई रिजल्ट नहीं निकला. उनकी कप्तानी में टीम की जीत का औसत 59.57 रहा.

अब तक बना चुके है इतने रन 

धोनी ने वनडे क्रिकेट में 23 दिसंबर 2004 को बांग्लादेश के खिलाफ चिटगांव में डेब्यू किया था. वह 287 वनडे मैच खेल चुके हैं. 50.96 के औसत से 9,275 रन बनाए हैं. इसमें 10 शतक और 61 अर्धशतक शामिल है. उन्होंने 90 टेस्ट मैच में 38 के औसत से 8,249 रन बनाए थे.

vineetarya

cricket is my first and last love, I know cricket only cricket, I love watching cricket because cricket is my passion and my passion is my work my favourite player Mike Hussey and Kl Rahul