शुभमन गिल के सर चढ़ा कामयाबी का भूत, मैदान पर अंपायर को दी गाली, ग्राउंड छोड़ने से किया मना 1
इमेज सूत्र: KKR ट्वीटर

शुक्रवार को एक रणजी मैच में उस समय भारी विवाद खड़ा हो गया जब पंजाब के सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने आउट होने के बाद अंपायर को “गाली” दी और आईएस बिंद्रा स्टेडियम में दिल्ली के खिलाफ अपने रणजी ट्रॉफी मैच के दौरान मैदान से बाहर जाने से ही इनकार कर दिया.

आउट होने के बाद भी मैदान से बाहर नहीं गए शुभमन गिल

 

शुभमन गिल

टाइम्स ऑफ इंडिया के एक पत्रकार ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक सूत्र में घटना को बयान किया है जिसमें उन्होंने दावा किया कि शुभमन गिल ऑन-फील्ड अंपायर के फैसले से नाखुश थे जिससे वह आउट दिए जाने के बावजूद मैदान से बाहर नहीं गए और अपनी क्रीज पर ही खड़े रहे.

पत्रकार ने आगे दिल्ली के कप्तान नीतीश राणा के हवाले से कहा कि शुभमन गिल को जिस अंपायर ने आउट करार दिया उसी अंपायर के पास जाकर शुभमन ने कुछ कहा जिसके बाद अम्पयार ने अपना निर्णय वापस ले लिया.

आपको बता दें कि जब अंपायर ने विकेट को पलटने का फैसला दिया तब इस फैसले से पूरी दिल्ली की टीम नाराज हो गयी थी और नितीश राणा की अगुवाई वाली दिल्ली की पूरी टीम मैदान से बाहर चली गयी.

शुभमन गिल के सर चढ़ा कामयाबी का भूत, मैदान पर अंपायर को दी गाली, ग्राउंड छोड़ने से किया मना 2

इस विवाद पर नितीश राणा ने कहा

शुभमन गिल के सर चढ़ा कामयाबी का भूत, मैदान पर अंपायर को दी गाली, ग्राउंड छोड़ने से किया मना 3
nitish rana

यह वास्तव में दिल्ली की टीम के साथ अच्छा नहीं हुआ, क्योंकि जब अम्पायर किसी खिलाड़ी को आउट देता है, तो उसे मैदान के बार जाना ही पड़ता है चाहें वो आउट हो या न हो, लेकिन शुभमन गिल ने ऐसा नहीं किया, वे मैदान से बाहर नहीं गए. जिसके बाद ही हमारी टीम ने मैदान से बाहर जाने का निर्णय लिया.

मैच रेफरी को देना पड़ा दखल

शुभमन गिल के सर चढ़ा कामयाबी का भूत, मैदान पर अंपायर को दी गाली, ग्राउंड छोड़ने से किया मना 4

आपको बता दें कि हालाँकि मैच रेफरी ने जब इस निर्णय में दखल दिया और सभी खिलाड़ियों को संतुष्ट किया तब एक बार फिर सब खिलाड़ी मैदान पर वापस लौटे और मैच एक बार फिर चालू हुआ.

हालाँकि  पंजाब के 20 वर्षीय सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल  को अंत में आखिरकार सिमरजीत सिंह ने आउट कर दिया. शुभमन 41 गेंदों में 23 रन बनाकर अनुज रावत को कैच आउट हुए. एलीट ग्रुप ए और बी स्टैंडिंग में, पंजाब वर्तमान में 17 अंकों के साथ शीर्ष पर है जबकि दिल्ली सात अंकों के साथ 11 वें स्थान पर है.