शुभमन गिल के रणजी ट्रॉफी में अंपायर से विवाद के बाद भारतीय चयनकर्ताओं ने दी चेतावनी 1

रणजी ट्रॉफी के दौरान युवा भारतीय क्रिकेटर शुभमन गिल अंपायर से भिड़ गये थे. जिसके बाद बहुत ज्यादा विवाद हुआ था. कई दिग्गजों ने इस मामले में अपनी राय भी रखी थी. अब रिपोर्टस आ रही है कि उस मामले को लेकर भारतीय टीम के चयनकर्तायों ने शुभमन गिल को न्यूजीलैंड ए के दौरे से पहले बड़ी सलाह दी है.

शुभमन गिल को चयनकर्तायों ने दी सलाह

शुभमन गिल के रणजी ट्रॉफी में अंपायर से विवाद के बाद भारतीय चयनकर्ताओं ने दी चेतावनी 2

दिल्ली और पंजाब के बीच रणजी ट्रॉफी के दौरान शुभमन गिल ने एक बड़ा विवाद कर दिया. उस मैच के दौरान शुभमन गिल विकेटकीपर को कैच दे बैठे. जिसके बाद अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया. जिसके बाद पहले उन्होंने अंपायर को अपशब्द कहे और उसके बाद मैदान से बाहर जाने से मना कर दिया.

जिसके बाद अंपायर मोहम्मद रफ़ी को साथी अंपायर के साथ मिलकर फैसले को बदलना पड़ा. इस दिल्ली की टीम ने नाराज होकर मैदान तक छोड़ दिया था. लेकिन हालाँकि उसके बाद मैच आगे खेला गया. अब उसी मामले को लेकर भारतीय टीम के चयनकर्तायों ने गिल को सलाह दी है और आगे इस तरह के व्यवहार के लिए चेतावनी दी थी.

बिशन सिंह बेदी अब शुभमन गिल पर भड़के

शुभमन गिल के रणजी ट्रॉफी में अंपायर से विवाद के बाद भारतीय चयनकर्ताओं ने दी चेतावनी 3

शुभमन गिल के रणजी ट्रॉफी में अंपायर से विवाद के बाद भारतीय चयनकर्ताओं ने दी चेतावनी 4

पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज स्पिनर बिशन सिंह बेदी ने शुभमन पर भड़कते हुए एक पोस्ट किया और कहा कि

” किसी भी खिलाड़ी द्वारा किया गया ये व्यवहार बहुत ज्यादा गलत है. उन्हें इंडिया ए टीम की कप्तानी दी गयी है. कोई फर्क नहीं पड़ता है की कितना ज्यादा प्रतिभाशाली खिलाड़ी भी हो. कोई भी खिलाड़ी खेल से बड़ा नहीं होता है. उदाहरण देने का समय आ गया है. रेफरी को डराने से पहले किसी अच्छे खिलाड़ी को इंडिया ए टीम की कप्तानी देना चाहिए.”

गिल को सजा मिलने के पक्ष में हैं बेदी

शुभमन गिल के रणजी ट्रॉफी में अंपायर से विवाद के बाद भारतीय चयनकर्ताओं ने दी चेतावनी 5

बीसीसीआई द्वारा युवा शुभमन गिल को सजा मिलने की बात करते हुए बिशन सिंह बेदी ने कहा कि

” इससे पहले जिसने भी ऐसा किया है. उसे सजा मिलना चाहिए. बापू ने एक बार मैच में आउट होने के बाद गेंदबाज से बहस किया था. जिसके बाद हमारे कप्तान नवाब टाइगर पटौदी ने उन्हें मैदान से बाहर जाने को कहा. उसके बाद उन्होंने कभी ऐसा नही किया.”