सौरव गांगुली

कोरोना का कहर पूरे जगत पर जारी है। इसी साल की शुरुआत से ही कोरोना महामारी का प्रकोप अपने प्रचंड रूप में फिर ने नजर आ रहा है। जिसका तोड़ अब तक नहीं मिल सका है। कोरोना महामारी ने हर किसी को काफी डर के साए में रहने को मजबूर कर दिया है। जिसमें भारतीय क्रिकेट से जुड़े कई लोगों को काफी टेस्ट से गुजरना पड़ा।

सौरव गांगुली ने अबतक कराया है 22 बार कोविड-19 का टेस्ट

इस मामले में भारतीय क्रिकेट कन्ट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली को भी कोविड-19 के काफी टेस्ट कराने पड़े। खुद सौरव गांगुली ने खुलासा किया है कि उन्होंने पिछले साढ़े चार महीनों 22 बार कोरोना जांच करवा चुके हैं। यानी उन्हें हर वक्त इस स्थिति से गुजरना पड़ा।

सौरव गांगुली का बड़ा खुलासा, कोरोना काल में कुल 22 बार उन्होंने करवाया कोरोना टेस्ट 1

सौरव गांगुली के लिए कोविड-19 की जांच भी जरूरी थी, क्योंकि वो आईपीएल के 13वें सीजन के संयुक्त अरब अमीरात में होने के कारण 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच यूएई में ही रहना पड़ा। हालांकि वो वहां बायो बबल में थे, लेकिन फिर से कोरोना परीक्षण को बार-बार करवाया।

माता-पिता और बाकी लोगों की चिंता से करवाए टेस्ट

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने लिविंगार्ड एजी के नाम से हुई वीडियो कॉन्फ्रेस में  कहा कि

“मैं आपको बताऊं कि बीते साढ़े 4 महीनों में मैंने 22 बार कोविड-19 जांच कराई है और एक बार भी पॉजिटिव नहीं आया। मेरे आस पास के लोग कोविड-19 पॉजिटिव मिले थे, इसलिए मुझे भी कोविड-19 परीक्षण कराने पड़े।”

सौरव गांगुली का बड़ा खुलासा, कोरोना काल में कुल 22 बार उन्होंने करवाया कोरोना टेस्ट 2

“मैं अपने वृद्ध माता-पिता के साथ रहता हूं और मैंने दुबई की यात्रा की। शुरू में मैं काफी चिंतित था, खुद के लिए नहीं, बल्कि समुदाय के लिए, आप किसी को संक्रमित नहीं करना चाहते।”

कोविड में बीसीसीआई टीम ने किया अच्छा काम

सौरव गांगुली ने इसके बाद ऑस्ट्रेलिया गई टीम के खिलाड़ियों की फिटनेस को लेकर कहा कि

“खिलाड़ी फिट हैं और ठीक हैं।  साथ ही ऑस्ट्रेलिया में कोविड-19 मामलों की संख्या भी ज्यादा नहीं है, जहां सीमाएं भी कुछ समय के लिए बंद कर दी गई थीं।  फिर भी वे इंटरनेशनल टूर को लेकर काफी ज्यादा सख्त हैं, आपको 14 दिन के कड़े क्वारेंटाइन में रहना पड़ता है इसलिए लड़के अब मैदान पर उतरने के लिए तैयार हैं।”

सौरव गांगुली

आईपीएल के 13वें सीजन की सफलता पर गांगुली ने कहा कि

उन्हें गर्व है कि उनकी बीसीसीआई टीम ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का सफल आयोजन किया और उन्हें उम्मीद है कि अगले सत्र में इसका आयोजन भारत में ही होगा । कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण आईपीएल का आयोजन इस साल यूएई में कराया गया।”

“करीब 400 लोग ‘बायो-बबल’में थे, सभी के सुरक्षित और स्वस्थ रहने के लिए ढाई महीनों के अंदर 30-40 हजार परीक्षण कराए गए।”