सौरव गांगुली ने हितों के टकराव के मामलें में इस बड़े पद से इस्तीफा देने का दिया संकेत 1

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को हाल ही में हितों के टकराव मामलें में कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। सौरव गांगुली मौजूदा समय में बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य होने के साथ ही इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली कैपिटल्स के लिए सलाहकार के पद पर नियुक्त हैं।

सौरव गांगुली ने हितों के टकराव मामले पर बड़ा कदम उठाने के दिए संकेत

ऐसे में बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति के साथ ही आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के साथ जुड़ने को लेकर उन पर इस मामले में जांच करने को कहा गया है।

It is a pleasure to return to Dhawan's form: Ganguly

बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने बीसीसीआई के लोकपाल जस्टिस डीके जैन को सौरव गांगुली के इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। ऐसे में अब सौरव गांगुली ने एक बड़ा कदम उठाने के संकेत दिए हैं।

हितों के टकराव के मामलें के बाद गांगुली दे सकते हैं सीएसी से इस्तीफा

सौरव गांगुली इस समय सीएसी के साथ ही दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार के रूप में दोहरी भूमिका निभा रहे हैं जो सीईओ राहुल जौहरी के अनुसार हितों के टकराव में आता है। ऐसे में अब सौरव गांगुली ने सीएसी से इस्तीफा देने का मन बना लिया है।

सौरव गांगुली ने हितों के टकराव के मामलें में इस बड़े पद से इस्तीफा देने का दिया संकेत 2

सौरव गांगुली ने हितों के टकराव के मामलें में इस बड़े पद से इस्तीफा देने का दिया संकेत 3

सौरव गांगुली ने तो क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य से अपना इस्तीफा देने का संकेत दिया है लेकिन साथ ही सूत्रों की माने तो सौरव गांगुली के अनुसार ये किसी भी तरह से हितों का टकराव नहीं है। इसके बाद भी सौरव गांगुली इस्तीफा देने को तैयार हैं।

गांगुली के अनुसार ये नहीं है कोई हितों का टकराव लेकिन जरूरत पड़ी तो इस्तीफा

सूत्र में दादा को लेकर बताया गया है कि

सौरव ने सीएसी के साथ आखिरी बार चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री की नियुक्ति के दौरान मीटिंग की थी। हाल के दिनों में समिति ने कोई मीटिंग नहीं की है। दादा ने साफ कहा कि है कि अगर जरूरत पड़ी तो वो सीएसी से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। ताकि हितों के टकराव का सवाल ना उठे। “

भले ही सौरव गांगुली सीएसी से हितों के टकराव के कारण इस्तीफा देने को तो तैयार हैं लेकिन उनका साफ मानना है कि ये किसी भी प्रकार से हितों का टकराव नहीं है, लेकिन फिर भी वो लोकपाल से मुलाकात करेंगे और इस पर चर्चा करेंगे।

Ganguly ready to quit Cricket Committee on conflict of interest

तो वहीं बीसीसीआई की सीओए ने राहुल जौहरी को पत्र लिखा है जिसमें कहा गया है कि

वो लोकपाल से हितों के टकराव के मामले की जांच को स्पष्ट करने को कहें। अगर गांगुली खुले तौर पर सभी चीजें स्पष्ट करते हैं तो वो दिल्ली कैपिटल्स के सलाहकार बने रह सकते हैं।”

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।