सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली नजर में लड़की से होना जैसा था 

सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली नजर में लड़की से होना जैसा था

हरभजन सिंह और सौरव गांगुली की जोड़ी ने ही भारतीय टीम को 2001 में वो सीरीज दिलाई थी. जिसके बाद से भारतीय क्रिकेट का दबदबा विश्व क्रिकेट में बनना शुरू हुआ था. अब बीसीसीआई के अध्यक्ष बन चुके पूर्व भारतीय दिग्गज कप्तान सौरव गांगुली ने को हरभजन सिंह को गेंद के साथ भारतीय टीम का सबसे बड़ा विनर बताया है.

सौरव गांगुली ने हरभजन सिंह को कहा मैच विनर गेंदबाज

सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली नजर में लड़की से होना जैसा था 1

कोलकाता टेस्ट 2001 में हरभजन सिंह ने 14 विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया की टीम को हरा दिया था. जिस समय भारतीय टीम के कप्तान सौरव गांगुली थे. हरभजन सिंह ने उस सीरीज में 32 विकेट अपने नाम किये थे. हरभजन सिंह के बारें में बोलते हुए दादा ने इंडिया टुडे के शो में कहा कि

” हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना ऐसे है जैसे किसी लड़की से पहली नजर में प्यार होना. ईडन में उसे गेंदबाज करते देख मुझे ऐसे ही लगा था. जिसके बाद मैंने कहा था की ये लड़का भारतीय क्रिकेट को बदल देगा. उसने उसके बाद 711 विकेट लिए जिसका मुझे बिलकुल भी आश्चर्य नहीं है.”

अनिल और हरभजन की जोड़ी को सर्वश्रेष्ठ बताया दादा ने

सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली नजर में लड़की से होना जैसा था 2

दिग्गज अनिल कुंबले और हरभजन सिंह की जोड़ी पर बोलते हुए सौरव गांगुली ने कहा कि

” हरभजन सिंह और अनिल कुंबले भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़े विनर गेंदबाज थे. जिनके विकेटो की संख्या और उसका मैच पर प्रभाव उसे साबित करता है. जब युवा लड़के आए, तो मुझे कुछ विश्वास हुआ. मैं मैच जीतने वाले खिलाड़ियों में विश्वास करता था, मैं तेजतर्रार खिलाड़ियों में विश्वास करता था जो निडर होते हैं.”

उन्होंने आगे कहा कि

” केवल आप तब ही मैच जीत सकते हैं. मैंने कभी ड्रॉ के लिए नहीं खेला, या तो आप हार गए या आप जीत गए, बीच में कुछ भी नहीं है. मुझे लगता है कि इससे टीम को मदद मिली. उस समय भारतीय टीम के दो प्रमुख गेंदबाज जवागल श्रीनाथ और अनिल कुबले चोटिल थे.”

चैंपियन गेंदबाज कहा सौरव गांगुली ने हरभजन सिंह को

सौरव गांगुली ने कहा हरभजन सिंह को गेंदबाजी करते देखना पहली नजर में लड़की से होना जैसा था 3

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को चैंपियन गेंदबाज बताते हुए सौरव गांगुली ने कहा कि

” हरभजन सिंह को मौका मिला था. मैंने 3 अलग-अलग टेस्ट मैचों में 3 अलग-अलग स्पिनर के साथ खेला. पहले में राहुल सांघवी थे, दूसरे में वेंकटपति राजू थे, तीसरे मैच में नीलेश कुलकर्णी थे और मेरे पास मात्र एक ही विकेट लेने वाला गेंदबाज हरभजन सिंह के रूप में था क्योंकि अनिल कुंबले चोटिल थे. अनिल के ना होने पर हरभजन सिंह ने चैंपियन की तरह गेंदबाजी की थी.”

Related posts