सौरव गांगुली ने कहा अगर नंबर 4 की जिम्मेदारी ले सकते हैं के एल राहुल तो ही मिले टीम में जगह 1

टी-20 विश्व कप अगले साल अक्टूबर में होने वाला है। उससे पहले भारतीय टीम को करीब 30 टी-20 मैच खेलने हैं और इसमें टीम को अपने 15 खिलाड़ियों को चुनना है। यही वजह है कि पहले वेस्टइंडीज और अब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए टीम में कई युवा खिलाड़ियों को जगह मिली है। सभी टीम में अपनी जगह पक्की करना चाहते हैं।

सौरव गांगुली ने दी चेतावनी

सौरव गांगुली ने कहा अगर नंबर 4 की जिम्मेदारी ले सकते हैं के एल राहुल तो ही मिले टीम में जगह 2

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का मानना है कि टीम को अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत नहीं है। वह चाहते हैं कि घरेलू मैचों में अच्छा प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों को मौका देना चाहिए। उन्हें आईसीसी विश्व कप का उदहारण देते हुए टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में लिखा

सौरव गांगुली ने कहा अगर नंबर 4 की जिम्मेदारी ले सकते हैं के एल राहुल तो ही मिले टीम में जगह 3

“भारत के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात अगले साल होने वाले विश्व टी 20 को नहीं देखना है। पिछले विश्व कप से पहले काफी अधिक शोर था और कभी-कभी यह अच्छा नहीं होता है। जो करने की जरूरत है वह सर्वश्रेष्ठ संभव खिलाड़ियों को चुनने और उन्हें लगातार अवसर देने की है, क्योंकि घरेलू सर्किट में कुछ गंभीर प्रतिभाएं हैं।”

केएल राहुल पर है दबाव

सौरव गांगुली ने कहा अगर नंबर 4 की जिम्मेदारी ले सकते हैं के एल राहुल तो ही मिले टीम में जगह 4

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल टेस्ट टीम से ड्रॉप हो चुके हैं वहीं वनडे और टी-20 उन्हें तीसरे सलामी बल्लेबाज के रूप में मौका मिलता है। ऐसे में उन्हें गिने- चुने मैचों में ही प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जाता है। इसके साथ ही मनीष पांडे और श्रेयस अय्यर की वजह से मध्यक्रम में भी उनकी राह मुश्किल हो चुकी है। उनके बारे में सौरव गांगुली ने लिखा

“रोहित और शिखर के साथ सबसे अच्छी संभव जोड़ी है और केएल राहुल को धकेल दिया जाएगा। उन्होंने लगातार खराब के कारण टेस्ट क्रिकेट में अपनी जगह खो दी है। श्रेयस और मनीष पांडे की पसंद उन्हें अपने पैर की उंगलियों पर रखेंगे यदि वह नंबर 4 पर अपनी जगह बनाना चाहते हैं।”