क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर गांगुली ने कही बड़ी बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

डे-नाइट टेस्ट की सफलता और पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर सौरव गांगुली ने रखी अपनी बात 

डे-नाइट टेस्ट की सफलता और पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर सौरव गांगुली ने रखी अपनी बात

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली अपनी बेबाकी और खास फैसलों के लिए शुरुआत से ही जाने जाते हैं। सौरव गांगुली ने अपने क्रिकेट करियर में तो फैसलों से हैरान करते रहे जिसके बाद अब वो बीसीसीआई के अध्यक्ष बनने के बाद भी अपने अच्छे फैसलों से हैरान भी कर रहे हैं और खुश भी कर रहे हैं।

सौरव गांगुली ने रखी भारत में डे-नाइट टेस्ट मैच की नींव

बीसीसीआई के अध्यक्ष पद को संभाले अभी 2 महीनों का भी वक्त नहीं हुआ है लेकिन इस दौरान गांगुली ने एक से एक बड़े फैसले लिए हैं। दादा ने पिछले चार साल से डे-नाइट टेस्ट के सपने को देख रहे फैंस को खुश करते हुए भारत का पहला डे-नाइट टेस्ट आयोजित कराया।

डे-नाइट टेस्ट की सफलता और पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर सौरव गांगुली ने रखी अपनी बात 1

हाल ही में बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ईडेन गार्डन में डे-नाइट टेस्ट का सफलतापूर्वक आयोजन कराया। जिसको लेकर सौरव गांगुली ने बीसीसीआई की एजीएम में अपनी बात रखी।

अलग-अलग राज्य संघों को भी मिल सकती है मेजबानी

सौरव गांगुली ने डे-नाइट टेस्ट के आयोजन को लेकर कहा कि “हम पहले ही शुरू कर चुके हैं। इसका श्रेय अरुण धूमल और जय शाह और शीर्ष अधिकारियों को भी दिया जाना चाहिए। तीन दिन के अंदर हमने एक बैठक की और उन्हें बताया कि डे-नाइट टेस्ट होना है। हमने सफलता देखी और वो भी ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी टीमों के लिए भारत सबसे मजबूत नहीं था।

डे-नाइट टेस्ट की सफलता और पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर सौरव गांगुली ने रखी अपनी बात 2

अलग-अलग राज्य क्रिकेट संघों को डे-नाइट के मैचों की मेजबानी करने मिलेगी। हम संघों के अनुरोध के अनुसार व्यवहार करेंगे।

पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन को लेकर दादा ने कही ये बात

वहीं इसके आगे सौरव गांगुली ने बीसीसीआई की पूर्व क्रिकेटरों के लिए पेंशन योजना को लेकर भी बड़ा फैसला करने की बात को लेकर कहा कि “हम पूरी पेंशन योजना पर फिर से गौर करेंगे क्योंकि बहुत सारे खिलाड़ियों के पास नौकरी  है और पेंशन मिलती है। इसलिए हमें इसे उन लोगों के लिए और ज्यादा उपलब्ध कराना होगा जो ज्यादा जरूरत में हैं।”

डे-नाइट टेस्ट की सफलता और पूर्व क्रिकेटरों की पेंशन में सुधार पर सौरव गांगुली ने रखी अपनी बात 3

बीसीसीआई अध्यक्ष ने आगे कहा कि “जैसा कि आप जानते हैं बीसीसीआई का राजस्व बढ़ रहा है और बढ़ेगा। धन ऊपर चला गया है। इसलिए हम जो कर रहे हैं वो राज्यों के बेहतर बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। गुजरात में इतना बड़ा स्टेडियम बना है हिमाचल में ऐसी शानदार सुविधाएं हैं, चेन्नई के नए स्टैंड वापस ट्रैक पर हैं।”

हम नई राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी भी बना रहे हैं। नौ नए रास्जों को बुनियादी ढांचे की जरूरत है, उन्हें आधार खरीदना है। उन्हें आधारभूत संरचना का निर्माण करना है। इसलिए केवल एक बार में पैसा नहीं देंगे, इसे विभागीय करेंगे और बीसीसीआई प्रगति की निगरानी करेगा। हम तीनों(गांगुली, धूमल, शाह) की अध्यक्षता में एक समिति बनाएंगे।”

Related posts