एस श्रीसंत की हुई जमकर कुटाई, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 54 गेंदों पर ठोके 137 रन 1

10 जनवरी से शुरु हुई सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी के साथ भारतीय क्रिकेट में घरेलू सत्र की शुरुआत हो चुकी है. बीत 4 दिनों में अलग-अलग टीमों के बीच काफ़ी शानदार क्रिकेट देखने को मिली है. इस दौरान कई खिलाड़ियों के लिए घरेलू सत्र की शुरुआत काफ़ी बेहतर रही. तो वहीं कुछ क्रिकेटर्स का प्रदर्शन निराशाजनक रहा.

इन्हीं मैचों में से एक मैच एलीट ग्रुप ई का एक मैच वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई और केरल के बीच खेला गया. केरल के लिए एक ही मैच में बेहतरीन और फ़्लॉप प्रदर्शन, दोनों हुए. केरल के कप्तान और विकेटकीपर-बल्लेबाज़ संजू सैमसन ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाज़ी का फ़ैसला किया. जिसे मुंबई के बल्लेबाज़ों ने लगभग गलत ही साबित कर दिया.

वापसी कर रहे श्रीसंत की हुई जम कर धुनाई

सैयद मुश्ताक़

युवा ऑलराउंडर यशस्वी जैसवाल और सीनियर विकेटकीपर-बल्लेबाज़ आदित्य तारे की सलामी जोड़ी ने मुंबई की टीम को शानदार शुरुआत दी. पहले विकेट के लिए 88 रन जोड़ने वाले जैसवाल और तारे ने क्रमशः 40 और 42 रन की निजी पारियाँ खेली. इसके अलावा कप्तान सूर्यकुमार यादव ने भी 38 रनों की बेहतरीन पारी खेली.

मुंबई के बल्लेबाज़ी लाइन-अप के सामने केरल के गेंदबाज़ बिल्कुल भटके हुए नज़र आ रहे थे. 7 साल के बैन के बाद क्रिकेट में वापसी कर रहे सीनियर तेज़ गेंदबाज़ एस श्रीसंत को बल्लेबाज़ों ने जमकर निशाना बनाया. मुंबई के बल्लेबाज़ों के आगे लाइन-लेंग्थ से भटके नज़र आ रहे श्रीसंत ने 4 ओवर में बिना कोई विकेट लिए 11.80 के महंगे इकॉनोमी रेट से 47 रन दिए.

मोहम्मद अज़हरुद्दीन की तूफ़ानी शतकीय पारी

एस श्रीसंत की हुई जमकर कुटाई, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 54 गेंदों पर ठोके 137 रन 2

इसके अलावा अगर बात की जाए लक्ष्य़ का पीछा करने के दौरान केरल की बल्लेबाज़ी की तो मुंबई से मिले 197 रन के लक्ष्य के जवाब में केरल के बल्लेबाज़ों ने बेहद शानदार बल्लेबाज़ी की. सीनियर बल्लेबाज़ रॉबिन उथप्पा और मोहम्मद अज़हरुद्दीन की सलामी जोड़ी ने 129 रनों की शानदार साझेदारी ने केरल के लिए लक्ष्य काफ़ी आसान कर दिया था.

सलामी बल्लेबाज़ मोहम्मद अज़हरुद्दीन ने मुंबई के गेंदबाज़ों को मैदान के चारों तरफ़ खेलते हुए महज़ 54 गेंदों में 9 चौकों और 11 छक्कों के साथ 137 रनों की बेहतरीन पारी. जिसके बाद बीसीसीआई के ट्विटर हैंडल से भी केरल के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज़ अज़हरुद्दीन की तारीफ़ की गई. अब देखना ये अहम होगा कि अज़हरुद्दीन आने वाले समय में यही प्रदर्शन जारी रख पाएंगे या नहीं.

आखिर में 8 विकेट से जीती केरल  की टीम

एस श्रीसंत की हुई जमकर कुटाई, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 54 गेंदों पर ठोके 137 रन 3

हालांकि पहली पारी में खराब गेंदबाज़ी के बाद मैच में केरल के लिए कई चीज़ें बेहतर गुज़री. टॉस जीत कर पहले गेंदबाज़ी में हुई गेंदबाज़ों की धुनाई के बाद केरल को मुंबई की तरफ़ से 197 रनों का लक्ष्य मिला.

जिसके जवाब में बल्लेबाज़ी करने उतरी केरल की टीम ने अपनी सलामी जोड़ी की शानदार शतकीय पारी की बदौलत इस बड़े से नज़र आ रहे लक्ष्य को 15.5 ओवर में सिर्फ़ 2  विकेट के  नुक़सान पर हासिल कर लिया और 8 विकेट की बड़ी जीत अपने नाम दर्ज की.