अपने घर पर 2015 विश्वकप में शानदार प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलिया को ख़िताब जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले बाये हाँथ के ऑस्ट्रेलियन तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क को उनके कोच जस्टिन लैंगर ने सफ़ेद गेंद में विश्व का सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज बताया है.

पाकिस्तान के खिलाफ तीसरे टी 20 में लिए 2 बेहतरीन विकेट

दरअसल ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे टी 20 में पाकिस्तान को 10 विकेट से हराकर सीरीज में विजयी परचम लहराया. इस मैच में मिचेल स्टार्क ने अपने कोटे के 4 ओवरों में 29 रन देकर 2 विकेट हासिल किये.

लैंगर ने स्टार्क को बताया सर्वश्रेष्ठ

मैच के बाद पत्रकारों से वार्ता करते समय ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर ने 27 वर्षीय मिचेल स्टार्क की जमकर तारीफ की उन्होंने प्रेस वार्ता के दौरान कहा-

“वह एक शानदार खिलाड़ी हैं। वह संभवत: दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सफेद गेंद वाले गेंदबाज हैं।यह गेंदबाज आखिरी के ओवेरों में तो और भी लाजवाब है उन्होंने विश्वकप में सबसे ज्यादा 27 विकेट लिए, हम सब जानते है की वह कितना महान गेंदबाज है”

बता दें कि मिचेल स्टार्क ने विश्वकप 2019 में 27 विकेट लिए थे जो किसी भी गेंदबाज का आईसीसी टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. एसा करके उन्होंने अपने ही हम वतन साथी ग्लेन मैग्रा का आठ साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा था.

ग्लेन मैग्रा ने 2007 वन-डे विश्वकप में कुल 26 विकेट लिए थे. ऐसे ऐतिहासिक प्रदर्शन के लिए उन्हें लगातार दूसरी बार टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार मिलना उनकी महानता का सूचक है.

Leave a comment