गेंदबाज के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाले स्टीव स्मिथ ने बताया अब क्यों नहीं करते गेंदबाजी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

गेंदबाज के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाले स्टीव स्मिथ ने बताया अब क्यों नहीं करते गेंदबाजी 

गेंदबाज के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाले स्टीव स्मिथ ने बताया अब क्यों नहीं करते गेंदबाजी

पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज में अब तक दोनों मैच बहुत ज्यादा रोमांचक रहे है, हालाँकि दोनों मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान कों शिकस्त दी है. दोनों ही मैच के दौरान देखा गया कि ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाजों कों ज्यादा गेंदबाजी करनी पड़ी जिसके चलते लगा कि ऑस्ट्रेलिया की 11 सदस्यी टीम में गेंदबाजों की कमी है, इसलिए डेविड सेकर ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ कों और गेंदबाजी करनी चाहिए जिससे तेज़ गेंदबाजों कों थोड़ा आराम करने का मौका मिले.

यह भी पढ़े : नील ब्रूम ने शतक के बाद बनाया एक अनोखा रिकॉर्ड

सब जानते है कि ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ जो इस समय दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों में से एक है उन्होंने ऑस्ट्रेलियन टीम में अपना डेब्यू एक स्पिनर के तौर पर किया था. स्टीव स्मिथ ने रिकी पोंटिंग की कप्तानी के समय 25 टेस्ट मैच में 109 ओवर किये थे, जिसमे उन्होंने 13 विकेट लिए थे  हालाँकि जब माइकल क्लार्क ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान बने तब स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलियन टीम में एक बल्लेबाज़ की भूमिका निभा रहे थे और तभी से उन्होंने गेंदबाजी करना छोड़ दिया था.

पाकिस्तान के खिलाफ़ चल रहे दुसरे मैच के दौरान स्टीव स्मिथ की गेंदबाजी कों लेकर सवाल उठने लगे क्योंकि ऑस्ट्रेलिया जब गेंदबाजी कर रही थी, तो उनके तेज़ गेंदबाजों कों लगातार काफी ओवर्स करने पड़ रहे थे. पहले मैच की दूसरी इनिंग में तीनो तेज़ गेंदबाजों कों मिलकर 113 ओवर फेकने पड़े. इसी तरह दुसरे मैच में भी तीनो तेज़ गेंदबाजों कों 30 से ज्यादा ओवर ही गेंदबाजी करनी पड़ी.

जब सब स्टीव स्मिथ के गेंदबाजी ना करने पर सवाल उठाने लगे, तो ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने बताया कि वह चोट के कारण कम गेंदबाजी करते है.

यह भी पढ़े : मैदान पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने के लिए मैच रेफरी ने इस बंगलादेशी क्रिकेटर को लगाई फटकार

उन्होंने बताया :-

“ब्रिसबेन के मैच के दौरान स्टार्क का एक तेज़ शॉट मुझे लगा था,  शायद उसी की वजह से मुझे गेंदबाजी करने में तकलीफ होती है, इसलिए मुझसे जितनी हो सकती है उतनी गेंदबाजी जरुर करता हूँ”

आगे उन्होंने बताया कि सिडनी के मैच के दौरान हो सकता है एक स्पिनर गेंदबाज़ खेले और नाथन ल्योन के साथ मिलकर गेंदबाजी करे जिससे हमारे तेज़ गेंदबाजों कों आराम मिलेगा.

Related posts