मैंने भारतीय प्रधानमन्त्री से कहा क्रिकेट सीरीज होनी चाहिए लेकिन वो हँस कर टाल दिये: इमरान खान

vinay mani tripathi / 12 December 2015

आतंकबाद की वजह से भारत सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कोई भी मैच खेलने से साफ़ मना कर दिया है. ऐसे में क्रिकेटर से राजनेता बने पाकिस्तानी खिलाड़ी इमरान खान ने भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी से मिलने के दौरान ये मामला उठाया, उन्होंने कहा मैंने प्रधानमन्त्री को इस बारे में कहा कि आतंकबाद को जबाब देने के लिए क्रिकेट खेलना छोड़ देना कोई उपाय नहीं है. इस पर प्रधानमन्त्री जी ने तो कुछ नहीं कहा सिर्फ हँस दिए, लेकिन मै एक सकरात्मक सोच का व्यक्ति हूँ, और मै इसे वैसे ही लूँगा.

आतंकबाद के खिलाफ क्रिकेट रोकने पर इस दिग्गज क्रिकेटर ने कहा:

“मुझे नहीं लगता कुछ मानसिक रूप से बीमार लोगो की वजह से पुरे समाज कम बहिष्कार किया जाना सही है, हाँ एक बार मैंने क्रिकेट पर प्रतिबन्ध लगाने का समर्थन किया था, लेकिन साउथ अफ्रीका ने जो किया था वो नस्ली था, और मानवाधिकार के बिलकुल उल्ट था.”

 

इमरान के इस बयान के बाद भारत को 1983 विश्वकप दिलाने वाले दिग्गज कप्तान कपिल देव ने कहा, कि-

” खिलाड़ियों को एक दूसरे के खिलाफ खेलने में कोई समस्या नहीं है लेकिन आप सरकार की नीति के खिलाफ नहीं जा सकते, बोर्ड निश्चित तौर पर खेलना चाहता है लेकिन इमरान, कपिल और सचिन का नजरिया मायने नहीं रखता, अंत में सरकार का फैसला मायने रखता है.”

Related Topics