t natarajan

शुक्रवार यानी 4 दिसंबर को कैनबरा में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुरू हुई टी-20 सीरीज बेहद खास है. इस श्रृंखला के पहले मुकाबले में भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को खेलने का मौका नहीं दिया गया है. बल्कि उनकी जगह टीम में टी नटराजन ने डेब्यू किया है. ऐसे में जसप्रीत की पूरी जिम्मेदारी नटराजन के सिर होगी.

टी नटराजन ने किया टी-20 डेब्यू

t natarajan

वनडे में डेब्यू करने के बाद टी नजराजन ने आज टी-20 सीरीज में अपना पहला डेब्यू किया है. ऐसे में तीसरे वनडे में उनके प्रदर्शन को देखने के बाद टी-20 मैच में भी फैंस, दिग्गजों के साथ एक्सपर्ट्स को उनसे काफी सारी उम्मीदें होंगी. हालांकि लोगों की उम्मीदों पर टी नटराजन कितने खरे उतरते हैं.

ये तो उनकी गेंदबाजी को देखने के बाद ही पता चलेगा. दरअसल टी नटराजन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पहला वनडे मैच खेला था. जिसमें उन्होंने 10 ओवर में गेंदबाजी करते हुए 70 रन देकर दो विकेट झटके थे. इसमें ऑस्ट्रेलिया का एक अहम विकेट मार्कस लाबुशेन का भी था.

जसप्रीत बुमराह ने सौंपी डेब्यू कैप

Jaspreet Bumrah

हालांकि आज के मैच में टॉस होने से पहले ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड की ओर से सोशल मीडिया के जरिए एक वीडियो साझा किया गया है जिसमें टी नटराजन को जसप्रीत बुमराह डेब्यू कैप देते हुए दिखाई दे रहे हैं. इससे पहले वनडे में इस यॉर्कर खिलाड़ी को डेब्यू कैप कोहली ने दी थी. क्रिकेट बोर्ड ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से इस दौरान के वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा है,

“वनडे डेब्यू के बाद नटराजन_19 अपना पहला टी-20 मैच खेलेंगे. उन्होंने अपनी कैप जसप्रीत बुमराह से हासिल कर ली है”.

गेंदबाजों पर होगी विराट की नजर

t natarajan-VIRAT KOHLI

नटराजन को मिली कैप के बाद विराट कोहली ने भी एक बड़ा बयान दिया है. जिससे इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है, कि आज गेंदबाजों पर उनकी खास नजर गड़ी होगी. बातचीत के दौरान विराट कोहली ने कहा,

“कुछ लोगों पर एक नजर रखने का ये शानदार मौका होगा. गेंदबाजों को टीम का कारोभार सौंप दिया गया है. हम टी-20 क्रिकेट अच्छा खेल रहे हैं. बस इसे हमें जारी रखने की जरूरत होगी”.

https://twitter.com/BCCI/status/1334762115907821568?s=20

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को दिया 162 रन का लक्ष्य

ind vs aus t-20

अपने पहले वनडे डेब्यू में खेलने के बाद बयान देते हुए टी नटराजन ने कहा था कि, ये देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए एक अच्छा मौका था. इसके साथ ही उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों से मिले सपोर्ट को लेकर भी पूरी टीम को धन्यवाद दिया था. बात करें आज के मुकाबले की तो भारत की पारी 161/6 रन पर समाप्त हो चुकी है. जो ऑस्ट्रेलिया नहीं बना पाया.