वीरेंद्र सहवाग

वनडे और टेस्ट क्रिकेट में अपनी धाक जमाने वाली टीम इंडिया टी 20 में उतनी सफल नहीं हो पा रही है. वहीं 2020 ऑस्ट्रेलिया में टी 20 वर्ल्ड कप खेला जाना है जिसके लिए सभी टीमें तैयारियों में जुटी हुई हैं. वहीं टीम इंडिया में टॉप ऑर्डर को छोड़कर बार-बार टीम में होती खिलाड़ियों की अदला-बदली के बारे में बात करते हुए वीरेंद्र सहवाग ने टीम मैनेजमेंट पर निशाना साधा है.

टीम में खिलाड़ियों की होती रहती है अदला-बदली

वीरेंद्र सहवाग ने सीरीज जीत के बाद भी लगाई चयनकर्ताओं को फटकार, कहा टीम में क्यों नहीं है ये खिलाड़ी 1

टी 20 टीम इंडिया में खिलाड़ियों की अदला-बदली की जा रही है. जब सहवाग से इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया का उदाहरण देते हुए टीम इंडिया के बारे में पूछा गया तो क्रिकबज से बात करते हुए वीरेंद्र सहवाग ने कहा,

उन टीमों के जो 5 बल्लेबाज हैं वह बदलते नहीं है लेकिन हमारे यहां दिक्कत हैं कि टॉप-3 बल्लेबाज तो रहते हैं लेकिन जो नीचे के 3 बल्लेबाज हैं वह बदलते रहते हैं. कभी कार्तिक, सुरेश रैना, मनीष पांडे केएल राहुल थे तो ये खिलाड़ी आते जाते रहते हैं.”

अब जो खिलाड़ी खेल रहे हैं उनमें से एक्सपीरियंस तो किसी के पास नहीं है. दिनेश कार्तिक जो सबसे अधिक मैच खेले हैं वह टीम से बाहर हैं. मेरे ख्याल से उन एक्सपीरियंस खिलाड़ियों को रखना चाहिए जो खेल रहे थे इतने सालों से.”

वीरेंद्र सहवाग ने सीरीज जीत के बाद भी लगाई चयनकर्ताओं को फटकार, कहा टीम में क्यों नहीं है ये खिलाड़ी 2

दिनेश कार्तिक क्यों हैं टी 20 टीम से बाहर

वीरेंद्र सहवाग ने सीरीज जीत के बाद भी लगाई चयनकर्ताओं को फटकार, कहा टीम में क्यों नहीं है ये खिलाड़ी 3

इतना ही नहीं सहवाग ने दिनेश कार्तिक के टीम से बाहर होने पर भी सवाल पूछा कि आखिर वह टी 20 टीम से बाहर क्यों हैं… क्या जो छक्का मारकर उन्होंने टी 20 मैच जीताय वह उनकी गलती थी. यदि उन्होंने खुद को इस फॉर्मेट में साबित किया है तो फिर वह टीम में क्यों नहीं हैं. तो ये टीम मैनेजमेंट को सोचना होगा कि क्या वह उन खिलाड़ियों को लगातार खेलाएंगे जो वर्ल्ड कप में खेलने वाले हैं.

मैनेजमेंट को खिलाड़ियों को देना चाहिए आत्मविश्वास

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज वीरेंद्र सहवाग ने टी 20 टीम में लगातार खिलाड़ियों की अदला-बदली के बारे में कहा, कि टीम मैनेजमेंट को खिलाड़ियों को खेलाकर उन्हें कॉन्फिडेंस देना चाहिए. उन्हें बता दीजिए कि अगली 2 सीरीज में 6 मैच हैं अगर आपने उसमें 2 अर्धशतक नहीं बनाए तो हम आपको टीम से बाहर कर देंगे.

हमारे टाइम में कप्तान सौरव गांगुली ने 12-15 मैच दिए और बड़े-बड़े प्लेयर्स बनाए. विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन ये सब बड़े प्लेयर इसलिए बने हैं क्योंकि वह लगातार क्रिकेट खेले.जब उन्होंने खराब किया तो उन्हें बैक किया गया. इसलिए आपको खिलाड़ी को मौका देना चाहिए.