तीसरे व अंतिम वनडे को जीतकर क्लीन स्वीप करना चाहेगी टीम इंडिया

tiwarymadan / 14 June 2016

हरारे। ज़िम्बाब्वे के खिलाफ चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का अंतिम मैच बुधवार यानि 15 जून को खेला जाएगा। इस सीरीज में भारतीय टीम पहले ही दो वनडे जीतकर सीरीज पर कब्‍जा जमा चुकी है और अब उसकी निगाहें तीसरे मैच को जीतकर क्लीन स्वीप करने पर होगी।

पहले दोनों वनडे में भारत के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया है। उन्‍होंने ज़िम्बाब्वे के बल्लेबाजों को कम स्‍कोर पर समेट कर भारतीय बल्लेबाजों की राह काफी आसान कर दी थी। मेजबान टीम के खिलाफ दो आसान जीत दर्ज करने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अंतिम एकादश में बदलाव के पर्याप्त संकेत दिए थे।

मालूम हो कि इस दौरे पर भारत की युवा टीम गई है और सिर्फ कप्‍तान धोनी ही हैं, जिनको अनुभव है। लेकिन इसके बावजूद भी सभी मैच एकतरफा रहे हैं। अब जब बुधवार को तीसरा मैच खेला जाएगा तो दर्शकों को रोमांचक मैच की उम्‍मीद रहेगी। यह मैच हरारे स्‍पोर्ट्स क्‍लब में ही खेला जाना है। इसके बाद भारत को तीन टी-20 मैच भी खेलने हैं।

इससे पहले भारतीय टीम साल 2013 और 2015 में जिंबाब्‍वे के खिलाफ क्लीन स्वीप कर चुकी है और यदि इस सीरीज में भी क्लीन स्वीप रहता है तो तीसरी बार ऐसा मौका होगा जब भारत जिंबाब्‍वे के खिलाफ वनडे में क्लीन स्वीप करेगा।

मैदान -हरारे स्‍पोर्ट्स क्‍लब

मैच तारीख- 15 जून, 2016

समय-12:30 दोपहर

अगर जिंबाब्‍वे पहले बल्‍लेबाजी करता है तो-

संभावित स्‍कोर : 200 और कम

पिछले दोनों मैचों में जिंबाब्‍वे ने ज्‍यादा रन ही बनाए हैं। दोनो ही मैचों में जिंबाब्‍वे को पहले बल्‍लेबाजी का मौका दिया गया और उनके बल्‍लेबाज भारतीय गेंदबाजों के सामने टिक नहीं सके। टीम से ओपनिंग हैम्लिटन और चामू करते हैं। हैम्लिटन तेज खेलने के लिए जाने जाते हैं।

वहीं, पूरी सीरीज में केवल वूसी सिबांदा ही अच्‍छे फॉर्म में दिखे हैं। उन्‍होंने अर्धशतक भी जमाया है। वो अन्‍य बल्लेबाजों की मदद से टीम को 200 से ऊपर ले जाना चाहेंगे , जिससे कुछ रोमांचक मैच की उम्‍मीद हो सकेगी। वहीं, भारतीय टीम जिंबाब्‍वे को कम से कम स्‍कोर पर रोकना चाहेगी।

अगर भारत पहले बल्‍लेबाजी करता है तो-

संभावित स्‍कोर : 270 या ज्‍यादा

इस दौरे पर युवा टीम इंडिया खेलने के लिए गई है। अब तीसरे मैच में कप्‍तान धोनी फैज फजल या मनदीप सिंह में से किसी एक को पदार्पण का मौका दे सकते हैं। उन्‍होंने पहले यह संभावना जताई भी थी कि तीसरे मैच में नए खिलाड़ी खेल सकते हैं। अगर तीसरे मैच में टीम इंडिया को पहले बल्‍लेबाजी का मौका मिलता है तो वह 270 से ज्‍यादा रन बनाना चाहेंगी।

केएल राहुल के फॉर्म को देखते हुए यह स्‍कोर ज्‍यादा नहीं है। मालूम हो कि राहुल ने अपने पहले ही पदार्पण मैच में शतक जमा कर अपने मंसूबे दिखा दिए थे। वहीं, उनके जोड़ीदार अंबाती रायडु भी अच्‍छे फॉर्म में चल रहे हैं। लेकिन यदि फैज या मनदीप को जगह मिलती है तो हो सकता है कि दोनों में से कोई अपनी जगह खो दे और नए खिलाड़ी को मौका दिया जाए।

वहीं, इन दोनों के अलावा भी टीम इंडिया के पास और भी कई शानदार बल्‍लेबाज हैं। धोनी खुद बाद में आकर किसी भी फंसे मैच को जिताने का पूरा माद्दा रखते हैं। अंतिम मैच में टीम इंडिया जहां ज्‍यादा से ज्‍यादा रन बनाना चाहेगी वहीं जिंबाब्‍वे टीम के गेंदबाजों की नजर भारत के बल्लेबाजों को जल्‍द आउट पर रहेगी।