टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया ने अपने इस रिकार्ड को दोबारा दोहराया

वैसे तो टेस्ट क्रिकेट में धैर्य और विश्वास के साथ खेलना होता है,लेकिन जब किसी भी टीम को जितना होता है, और उसके पास सिर्फ एक दिन होता है, तो वो तेजी से रन बनाकर बड़ा लक्ष्य सामने वाली टीम के पास रखता है, जिसे वो टीम न बना पाए और जल्द से आउट हो जाये.

आज ऐसा ही नजारा वार्डर-गवास्कर ट्राफी के चौथे टेस्ट मैच में सिडनी ग्राउंड पर देखने को मिला है, जिसमे ऑस्ट्रेलिया टीम ने अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ कर दुनिया की दूसरी सबसे तेज रन बनाने वाली टीम बन गयी है.

आज ऑस्ट्रेलिया ने 5 रन पर ओवर की औसत से रन बनाये है, जिसमे जो बर्न्स, कप्तान स्मिथ और क्रिसरोजर ने क्रमशः 80.00, 101.42 और 169.23 के औसत से रन बनाया. ऑस्ट्रेलिया ने 1902 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ 5.80 की औसत से बनाये गये रिकॉर्ड को 6.27 की औसत से रन बना कर तोड़ दिया है.

इस सूचि में पहले स्थान पर साउथ अफ्रीका है, जिसने 2005 में केप टाउन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 6.80 की औसत से रन बनाया.

यहाँ सबसे तेज औसत से रन बनाने वाले देशो की सूचि प्रदर्शित की जा रही है:

 

टीम

स्कोर

ओवर

रन पर ओवर

पारी

विरुद्ध

ग्राउंड

वर्ष

साउथअफ्रीका

340/3d

50.0

6.80

दूसरी

जिम्बाम्बे

केपटाउन

2005

ऑस्ट्रेलिया

251/6

40.0

6.27

तीसरी

भारत

सिडनी

2015

ऑस्ट्रेलिया

296

51.0

5.80

दूसरी

साउथअफ्रीका

जोहान्सबर्ग

1902

इंग्लैंड

447/3d

78.0

5.73

दूसरी

बांग्लादेश

चेस्टर-ली-स्ट्रीट

2005

वेस्टइंडीज

246/2d

43.0

5.72

तीसरी

इंग्लैंड

सेंटजॉन

1986

*आंकड़े 9 जनवरी 2015 तक के है.

Related Topics