विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी 

हर एक मैच और हर एक सीरीज में एक इतिहास बनता है, जिसे लम्बे समय तक याद किया जाता है, ऐसे ही कुछ रिकार्ड और इतिहास पिछले कुछ विश्वकप में भी बने है. जैसे कुछ छोटी और कमजोर टीम अपने से मजबूत टीम को हरा कर उन्हें सीरीज से बाहर कर दे, जैसे 2007 विश्वकप में आयरलैंड ने अपने पहले ही विश्वकप में पाकिस्तान को हरा कर उसे टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था.

यहाँ हम उन टीमो पर एक नजर डालते है, जो विश्वकप 2015 में नहीं खेल पायेंगी.

नीदरलैंड:

विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी 1

व्यक्तिगतरूपसेअगरमुझेविश्वकप 2015 मेंकिसीटीमकीकमीमहशुसहोगी, तोवहनीदरलैंडहै. क्यूंकिइसटीमनेटी-20 विश्वकपकेक्वालीफायरचरणमेंजिसतरहसेआयरलैंडकोहरायाऔरउसकेबादइंग्लैंडऔरसाउथअफ्रीकाकोजीसतरहसेहरायावोनिश्चितरूपसेकाबिलेतारीफहै. फन मेबेर्ग , पीटर बोरेन , बेन कूपर, वेस्ले बैरिस  को खेलते हुए, देखना बहुत अच्छा होता है, लेकिन दुर्भाग्य से, आईसीसी विश्व क्रिकेट क्वालीफायर लीग 2014  क्व बाद चैम्पियनशिप 2013-14 में उनके प्रदर्शन ने उन्हें विश्वकप 2015 में जगह नहीं बनाने दिया.

अब तक नीदरलैंड 1996, 2003, 2007 और 2011 में विश्वकप का हिस्सा रह चूका है.

केन्या:

विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी 2

2003 विश्वकप का सेमिफाइनल खेलने वाली केन्या टीम इस साल विश्वकप 2015 में नहीं खेल पायेगी, 1996 से अब तक यह पहली बार है, जब केन्या विश्वकप का हिस्सा  न पायी है, 1996 में वेस्टइंडीज और 2003 में श्रीलंका पर अपनी जीत से उन्होंने सबको चौका दिया , लेकिन इस साल विश्वकप क्वालीफायर के सुपर सिक्स स्टेज में उनके प्रदर्शन ने उन्हें इस टूर्नामेंट से बाहर कर दिया है.

 कनाडा:

विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी 3

कनाडा इस साल विश्वकप से बाहर है, जिसके पीछे मुख्य कारण चैम्पियन लीग में उनका खराब प्रदर्शन रहा है, वे इस लीग में सिर्फ एक ही मैच जीत पाए थे, जिसकी वजह से उन्हें विश्वकप 2015 से बाहर रखा गया है.

कनाडा अब तक 1996, 2003, 2007 और 2011 में विश्वकप का हिस्सा रह चूका है. 

नमीबिया:

विश्वकप 2015: ये टीम इस साल विश्वकप नहीं खेल पायेंगी 4

कनाडा की तरह नमीबिया भी चैम्पियन लीग में प्रदर्शन करने में नाकाम रही, जिसकी वजह से उन्हें 2014 के विश्वकप क्वालीफायर लीग से बाहर रखा गया. जिसकी वजह से UAE और स्काटलैंड विश्वकप 2015 की 14 टीमो में जगह बनाने में कामयाब रही.

अभी तक सिर्फ 2003 में सिर्फ एक बार ही नमीबिया विश्वकप में जगह बनाने में कामयाब रही है. 

Related posts

Leave a Reply