दुनिया का एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज, जिसने किसी एक टेस्ट की दोनों पारियों में लगाये हैं शतक 1

क्रिकेट के खेल में रिकार्ड्स का बहुत अधिक महत्व माना जाता है. क्रिकेट नहीं तो रिकार्ड्स भी नहीं… मैच दर मैच एक से बढ़कर एक कीर्तिमान खिलाड़ियों द्वारा बनते देखे जाते हैं. नए रिकार्ड्स बनते है, तो पुराने टूटते भी है. क्रिकेट की भाषा में कहा जाए तो रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए है.

मगर कुछ रिकार्ड्स ऐसे भी होते है, जिनको तोड़ पाना किसी के लिए भी आसान नहीं होता. एक ऐसा ही विश्व रिकॉर्ड आज तक कायम है.

आज तक फ्लावर के नाम पर दर्ज है ये कीर्तिमान

दुनिया का एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज, जिसने किसी एक टेस्ट की दोनों पारियों में लगाये हैं शतक 2
image by: the cricket cauldron

ऐसा ही एक विश्व कीर्तिमान ज़िम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार एंडी फ्लावर के नाम पर दर्ज हैं. दरअसल एंडी फ्लावर दुनिया के एकमात्र ऐसे विकेटकीपर बल्लेबाज है, जिन्होंने एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक बनाया हो.

जी हां, एंडी फ्लावर के अलावा आज तक कोई भी अन्य विकेटकीपर बल्लेबाज किसी एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक नहीं बना सका है. एंडी फ्लावर ने यह रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध साल 2001 में बनाया था.

अफ्रीकी गेंदबाजों के छुट गये थे छक्के

दुनिया का एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज, जिसने किसी एक टेस्ट की दोनों पारियों में लगाये हैं शतक 3
image by : icc twitter

दक्षिण अफ्रीका और ज़िम्बाब्वे के बीच यह टेस्ट मैच 2001 में हरारे के स्पोर्ट्स क्लब में खेला गया था. इस टेस्ट मैच की पहली पारी में एंडी ने 142 और दूसरी पारी में नाबाद 199 रन बनाये थे.

पहली पारी में एंडी फ्लावर ने 142 रन बनाने के लिए 200 गेंदों का सामना किया था और अपनी पारी में 21 चौके और एक छक्का भी जमाया था. वहीं दूसरी पारी में फ्लावर ने ऐतिहासिक 470 गेंदों में 199 रनों की नाबाद पारी खेली थी और पारी में 24 चौके और एक छक्का भी जड़ा था.

साहसी पारी के बाद भी टीम को मिली हार

दुनिया का एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज, जिसने किसी एक टेस्ट की दोनों पारियों में लगाये हैं शतक 4
image by : sports 360

दूसरी पारी में एंडी फ्लावर सिर्फ एक रन से अपना दोहरा शतक बनाने से चुक गये थे, क्योंकि ज़िम्बाब्वे की पूरी टीम 391 के स्कोर पर ऑल आउट हो गयी थी. फ्लावर की शानदार पारियों के बाद भी ज़िम्बाब्वे की टीम यह मुकाबला 9 विकेट से हार गयी थी.

ज़िम्बाब्वे की टीम टेस्ट मैच भले ही हार गयी हो, लेकिन एंडी फ्लावर अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीतने में सफल रहे थे और यह नायाब रिकॉर्ड कायम किया था, जो आज तक उनके नाम पर दर्ज हैं.

एंडी फ्लावर ने ज़िम्बाब्वे के लिए 63 टेस्ट मैच खेले और 51.55 की औसत के साथ 4794 रन बनाने में सफल रहे. टेस्ट में उनके नाम पर 12 शतक और 27 अर्द्धशतक दर्ज है.

Akhil Gupta

Content Manager & Senior Writer at #Sportzwiki, An ardent cricket lover, Cricket Statistician.