Suresh Raina

क्रिकेट स्टार्स आए अपने किसी बयान को लेकर आए दिन किसी ना किसी तरह से सोशल मीडिया पर यूजर्स के निशाने पर आ जाते हैं। ऐसे कई क्रिकेटर्स हैं जो कभी कहीं भी कुछ बोल देते हैं जिसके बाद यूजर्स सोशळ मीडिया पर खूब आड़े हाथ लेते हैं। ऐसा ही कुछ इस बार भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर्स सुरेश रैना के साथ हुआ।

सुरेश रैना पर यूजर्स इस वजह से भड़के

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज रहे, सुरेश रैना ने एक कमेन्ट्री के दौरान अपने आपको ब्राह्मण करार क्या दे दिया, इसके बाद तो ट्वीटर पर फैंस ने जमकर निशाने पर लिया और खड़ी खोटी सुना दी।

सुरेश रैना ने खुद को बताया ब्राह्मण, भड़के फैंस ने सुना दी खरी-खरी 1

सुरेश रैना इन दिनों तो क्रिकेट से दूर हैं, जो पिछले ही साल इंटरनेशनल क्रिकेट को तो अलविदा कह चुके हैं, तो साथ ही आईपीएल में अभी कुछ वक्त है, ऐसे में वो एक टूर्नामेंट के दौरान कमेन्ट्री की भूमिका में दिखे।

कमेन्ट्री के दौरान अपने आपको बताया ब्राह्मण

तमिलनाडू प्रीमियर लीग का 5वां सीजन खेला जा रहा है, जहां सुरेश रैना कमेन्ट्री करते नजर आए। सुरेश रैना को इस शुरुआती मैच में विशेष तौर पर कमेन्ट्री के लिए आमंत्रित किया। ऐसे में रैना से कमेन्ट्री के दौरान एक सवाल पूछा गया जिसमें उन्होंने खुद को ब्राह्मण करार दे दिया।

suresh raina

सुरेश रैना को उनके साथी कमेंटेटर ने पूछा कि उन्होंने दक्षिण भारतीय संस्कृति को कैसे अपनाया है। इसके बाद रैना ने जवाब देते हुए कहा कि

“मैं भी ब्राह्मण हूं। मैं 2004(रैना 2008 से आईपीएल में चेन्नई से खेल रहे हैं) से चेन्नई में खेल रहा हूं। मुझे यहां कि संस्कृति से प्यार है। मैं अपने साथियों से प्यार करता हूं।”

“मैं अनिरुद्ध श्रीकांत के साथ खेल चुका हूं। सुब्रमण्यम बद्रीनाथ और एल बालाजी भी हैं। मुझे चेन्नई की संस्कृति पसंद है। मैं भाग्यशाली हूं कि मैं सीएसके का हिस्सा हूं।”

यूजर्स ने सुना डाली खरी-खरी

भारत का ये पूर्व बल्लेबाज भले ही ब्राह्मण जाति से हों, लेकिन उनका इस तरह से बताना ट्वीटर पर यूजर्स को रास नहीं आया और उन्होंने जमकर खरी-खरी सुनाई। जिसमें एक यूजर ने लिखा कि  ”सुरेश रैना आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए। ऐसा लगता है कि आपने कभी चेन्नई की वास्तविक संस्कृति का अनुभव नहीं किया है, हालांकि आप चेन्नई टीम के लिए कई वर्षों से खेल रहे हैं।”

Suresh raina

वहीं एक और यूजर ने लिखा ” सुरेश रैना को ऐसे शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था।”