क्या आप जानते हैं एशेज से भी पुरानी क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता कौन सी है..??? | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

क्या आप जानते हैं एशेज से भी पुरानी क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता कौन सी है..??? 

हम क्रिकेट की कुछ महान प्रतिद्वंदिताओं के बारे में तो जानते है, लेकिन क्या आपको एक “सबसे पुरानी क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता” के बारे में पता है..??? जी नहीं वह “एशेज” नहीं है.

एशेज की शुरुवात 1877 में हुई थी लेकिन इससे भी 33 साल पहले यानि 1844 में शुरू हुई यह प्रतिद्वंदिता क्रिकेट की सबसे पुरानी प्रतिद्वंदिता है.

1844 में संयुक्त राज्य “अमेरिका” का प्रतिनिधित्व करने के लिए एक टीम ने मैनहट्टन में ब्लूमिन्ग डेल पार्क में “कनाडा” से एक टीम का सामना किया था.

अनुसंधान के वर्षों के बाद 1853 में न केवल इसे स्वीकार किया गया कि यह “कनाडा बनाम संयुक्त राज्य अमेरिका” के बीच सबसे पुरानी अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतिद्वंद्विता है बल्कि सबसे पुरानी क्रिकेट प्रतिद्वंद्विता भी है. हालांकि, कुछ लोग इसे अंतरराष्ट्रीय मैच के रूप में नहीं पहचानते. इसे अमरीका और कनाडा के बीच एक बैठक के रूप में प्रचारित किया गया ओर खिलाड़ियों को दो क्लबों से लिया गया था.

वास्तव में मैच चार साल पहले ही हो सकता था .सेंट जॉर्ज क्लब को ओंटारियो के तट पर एक मैदान में टोरंटो के खिलाफ एक खेल खेलने के लिए फिल्ल्पोट्स से एक निमंत्रण मिला था. न्यूयॉर्क की एक 18 सदस्यीय टीम ने भीषण यात्रा की और 28 अगस्त को वहां पहुंचे.उनके आगमन से टोरंटो क्लब आश्चर्य में था क्योंकि कनाडा इस प्रस्ताव के बारे में कुछ नहीं जानता था.सेंट जॉर्ज एक मज़ाक का शिकार बना था. फिर भी, टोरंटो खेलने को तैयार हुआ और एक सभ्य भीड़ के सामने अंत में सेंट जॉर्ज दस विकेट से मैच जीत गया.

चार साल बाद टोरंटो को एक वास्तविक निमंत्रण भेजा गया जोकि स्वीकार कर लिया गया.अब हिस्सेदारी 1000 डॉलर बढ़ा दी गयी थी. सितम्बर 24 और 25 को मैच सेंट जॉर्ज क्लब के मैदान में होने थे. दो देशों के बीच यह पहला अंतरराष्ट्रीय मैच माना गया.

5000 के आसपास की एक बड़ी भीड़ मैच के पहले दिन पर उपस्थित थी और मैच पर तक़रीबन $ 100,000 की शर्त थी .आज के दौर में इन पैसो का मूल्य $ 2,000,000 है.मैच एक घंटे चालीस मिनट की देरी से शुरू हुआ. पहले बल्लेबाजी करते हुए कनाडा 82 पर आउट हो गया, हालांकि उस समय पिचों की स्थिति को देखते हुए यह एक सम्मानजनक स्कोर था .डेविड विंकवर्थ कनाडा के लिए 12 रन के साथ शीर्ष स्कोरर थे.

डेविड विंकलवर्थ एक रोचक चरित्र थे जो कि दोहरी अंतरराष्ट्रीय भूमिका निभाने वाले पहले खिलाडी होने का दावा कर सकते हैं. 1845 में वह संयुक्त राज्य अमेरिका के खिलाफ पहले तीन मैचों में कनाडा के लिए खेले और 1846 में संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए.

लंच ब्रेक के एक घंटे के बाद अमरीका ने बल्लेबाजी की और अगले दिन अपनी पारी को बढ़ाया व् 18 की एक पहली पारी की बढ़त बनाई. दूसरे दिन का खेल बारिश के कारण प्रभावित हुआ.दोनों टीम 26 सितंबर को मैच फिर से शुरू करने पर सहमत हुई. खेल शुरू हुआ और कनाडा ने मैच में दूसरी बार बल्लेबाजी की. कनाडा ने बोर्ड पर एक सम्मानजनक 63 रन बनाये.

82 के लक्ष्य का पीछा करते हुए जेम्स टर्नर और जॉन सीमे ने एक भी विकेट खोये बिना संयुक्त राज्य अमेरिका को एक विपुल 25 रन दिए. पर उसके बाद टीम ने 11 रन पर छह विकेट गंवा दिए और 58 तक पहुंचा लेकिन अंत में 23 रन से हार गया.

1845 में दोनों पक्षों में घर और बाहर फिर से मुकाबला हुआ. कनाडा 61 रन से अपनी सर ज़मीन पर मैच जीता और अगस्त 1846 में हार्लेम , न्यूयॉर्क में एक महीने के बाद दो विकेट से मैच जीता.

“टिम लॉकेलय” (वारविक विश्वविद्यालय में अमेरिकी इतिहास में एक विशेषज्ञ) ने 1999 में गार्जियन को बताया कि क्रिकेट 1861 से पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में सबसे लोकप्रिय खेल रहा था .जब 1861 में गृहयुद्ध शुरू हुआ तब यह लोकप्रियता के शिखर तक पहुंच गया था पर यह खेल युद्ध का शिकार बन गया.

तब से अमरीका और कनाडा छिटपुट रूप से एक दूसरे के साथ खेला है .पिछली बार 9 मई 2015 में वर्ल्ड स्पोर्ट पार्क, इंडियानापोलिस में आईसीसी अमेरिका के क्षेत्र डिवीजन टी -20 में ये खेले. कनाडा ने 23 रन से संयुक्त राज्य अमेरिका को हरा दिया था.

Related posts

Leave a Reply