in , ,

आईपीएल 2019- इन तीन अंडररेटेड खिलाड़ियों पर रहेंगी खास नजरें, चौंकाने वाला है पहला नाम

विश्व क्रिकेट की सबसे बड़ी टी20 क्रिकेट लीग इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन का आगाज होने में अब कुछ ही वक्त बचा हुआ है। आईपीएल के 12वें सीजन का हर किसी को बेसब्री से इंतजार है। जिसका रोमांच फैंस के दिलों-दिमाग में छाया रहता है।

आईपीएल में इन तीन अंडररेटेड खिलाड़ियों पर रहेंगी नजरें

आईपीएल हर किसी क्रिकेटिंग नेशन के युवा खिलाड़ियों के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट में जगह बनाने का मंच रहा है जिसके माध्यम से आज कई खिलाड़ी इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना कमाल दिखा रहे हैं।

तो वहीं कुछ ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने हमेशा ही आईपीएल में मौका मिलने पर अपना प्रभाव छोड़ा है लेकिन इन खिलाड़ियों को वैसा श्रेय नहीं मिल सका जिसके ये हकदार रहे हैं। तो आज आपको हम रिपोर्ट में दिखाते हैं वो 3 खिलाड़ी जो हैं अंडररेटेड लेकिन रहेंगी हर किसी की नजरें…

अजिंक्य रहाणे

भारतीय क्रिकेट टीम के टेस्ट उपकप्तान अंजिक्य रहाणे को हमेशा ही आईपीएल में कमतर माना गया है। अजिंक्य रहाणे आईपीएल में लगातार शानदार प्रदर्शन करने में कामयाब रहे हैं लेकिन उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट में इस फॉर्मेट का खिलाड़ी नहीं माना गया है।

अजिंक्य रहाणे ने आईपीएल में 2012 के सीजन से ही लगातार अपने बल्ले का रंग दिखाया है। रहाणे ने हर सीजन में रनों का अंबार खड़ा किया। इसके बाद भी उन्हें भारतीय टीम में इस टी20 फॉर्मेट में जगह बनाने के लिए लगातार जद्दोजेहद करनी पड़ी है।

अंजिक्य रहाणे ने आईपीएल में 126 मैचों की 119 पारियों में करीब 33 की औसत और करीब 120 की स्ट्राइक रेट से 3447 रन बनाए लेकिन इसके बाद भी उन्हें खास श्रेय नहीं मिला। ऐसे में रहाणे को अंडररेटेड खिलाड़ी कहना गलत नहीं होगा।

मिचेल मैक्लेनाघन

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज मिचेल मैक्लेनाघन को इंटरनेशनल क्रिकेट से ज्यादा पहचान आईपीएल ने दिलायी। मिचेल मैक्लेनाघन ने आईपीएल में जब-जब मौका मिला अपने आप को साबित करने का कोई मौका नहीं गंवाया। मिचेल मैक्लेनाघन पूरे विश्व भर की टी20 क्रिकेट लीग में खेलते नजर आते हैं।

मैक्लेनाघन ने आईपीएल में भी अपना खूब जलवा दिखाया है। इस बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने मुंबई इंडियंस की टीम का प्रतिनिधित्व किया है। जिसमें उन्होंने कुल 51 मैच खेले और इस दौरान उन्होंने 8.55 की औसत से 68 विकेट हासिल किए।

इस बेहतरीन प्रदर्शन के बाद भी मिचेल मैक्लेनाघन को वो श्रेय नहीं मिल सका जिसके ये हकदार हैं। एक बार फिर से मिचेल पर नजरें रहेंगी।

संदीप शर्मा

पंजाब के तेज गेंदबाज संदीप शर्मा को आईपीएल ने ही खास पहचान दिलायी है। संदीप शर्मा ने आईपीएल के जरिए ही भारतीय टीम में जगह बनायी लेकिन वहां उनका कुछ खास श्रेय नहीं मिल पाया। संदीप शर्मा में जबरदस्त काबिलियत है।

संदीप अपनी स्विंग गेंदबाजी से बड़े-बड़े बल्लेबाजों को परेशान करने में सफल रहे हैं।संदीप ने आईपीएल में 68 मैच खेले जिसमें उन्होंने 83 विकेट झटके लेकिन इन्हें कभी वो तारीफ नहीं मिली जिसके ये हकदार रहे हैं। संदीप की सबसे खास बात उनकी इकॉनेमी रेट रही है जो महज 7.74 की रही है लेकिन उन्हें खास तवज्जों नहीं दी जाती है।

संदीप पर एक बार फिर से इस आईपीएल में नजरें हैं देखना ये है कि वो कैसा प्रदर्शन करने में कामयाब रहते हैं।

 

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।