भारतीय टीम के तीन उपकप्तान जो कभी नहीं बन पायें टीम के कप्तान, ये दिग्गज

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

भारतीय टीम के तीन उपकप्तान जो कभी नहीं बन पायें टीम इंडिया के कप्तान, कई दिग्गज नाम शामिल 

भारतीय टीम के तीन उपकप्तान जो कभी नहीं बन पायें टीम इंडिया के कप्तान, कई दिग्गज नाम शामिल
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

जब कोई खिलाड़ी क्रिकेटर बनने का सपना देखता है तो वो इसके साथ एक और बड़ा सपना देखता है. जो होता है अपनी टीम की कप्तानी करने का. अपने देश का नेतृत्व कप्तान के रूप में करना बहुत बड़े सम्मान की बात होती है. हालाँकि बहुत कम खिलाड़ी होते हैं जिन्हें ये सम्मान अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में नसीब हो पाता है.

एक कप्तान बनने के लिए सबसे बड़ा रास्ता होता है कि आप टीम के उपकप्तान बन जाएँ, क्योंकी जब आप टीम के उपकप्तान बन जाते हैं तो आप कप्तान बनने के सबसे करीब पहुँच जाते हैं. कुछ ही खिलाड़ी ऐसे होते हैं जिन्हें सीधे कप्तान बना दिया गया था.

आज हम आपको तीन ऐसे भारतीय खिलाड़ियों के बारें में बता रहे हैं जो अपने टीम के उपकप्तान को बनाए गये लेकिन उसके बाद कभी भी टीम के कप्तान नहीं बन पाए. इस लिस्ट में कई दिग्गज खिलाड़ियों का नाम शामिल हो चूका है.

1.युवराज सिंह

भारतीय टीम के दिग्गज आलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह ने भी कभी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व नहीं किया. सीमित ओवर क्रिकेट में इस खिलाड़ी का कद बहुत ही बड़ा माना जाता है. युवराज सिंह की पहचान भारतीय क्रिकेट में एक बहुत बड़े मैच विनर के रूप में होती है. युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए 2008 में उपकप्तानी संभाली थी.

जिसके बाद वो 2010 तक भारतीय टीम के उपकप्तान रहे लेकिन उसके बाद भी कभी टीम के कप्तान नहीं बन पाए. युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए लगभग 400 अंतराष्ट्रीय मैच खेले.

2011 विश्व कप और 2007 टी20 विश्व कप जीत के हीरो युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए भले ही कप्तानी ना ही हो लेकिन वो आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब और पुणे वारियर इंडिया की कप्तानी की है. किंग्स इलेवन पंजाब की टीम की कप्तानी करते हुए उन्होंने अपने टीम को सेमीफाइनल में पहुँचाया था.  हाल में ही युवराज सिंह ने ग्लोबल टी20 कनाडा लीग में टोरेंटो नेशनल्स की कप्तानी की और उसे सेमीफाइनल में पहुँचाया था.

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

Related posts