गौतम गंभीर की ये खूबिया जिससे नहीं भरी जा सकती उनकी जगह

Trending News

Blog Post

एडिटर च्वाइस

ये 4 गुण गौतम गंभीर को बनाते हैं औरो से खास, शायद ही मिले भारत को ऐसा दूसरा क्रिकेटर 

ये 4 गुण गौतम गंभीर को बनाते हैं औरो से खास, शायद ही मिले भारत को ऐसा दूसरा क्रिकेटर

भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन सलामी बल्लेबाजों में से एक रहे गौतम गंभीर ने मंगलवार को अचानक से ही सन्यास का फैसला कर लिया। गौतम गंभीर अब इंटरनेशनल क्रिकेट के साथ ही किसी भी तरह के क्रिकेट को खेलते नजर नहीं आएंगे।

गौतम गंभीर के ये 4 गुण उन्हें बनाते हैं बहुत खास

गौतम गंभीर ने साल 2003 में भारतीय टीम के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट का आगाज करने के बाद से साल 2016 तक क्रिकेट खेला। बीच में कुछ समय टीम से भी बाहर रहे।

गौतम गंभीर बिना किसी शक के एक जबरदस्त बल्लेबाज रहे हैं। लेकिन इनमें ऐसी कुछ काबिलित है जो उन्हें दूसरे खिलाड़ियो से अलग बनाती है ऐसे में हम कह सकते हैं कि गौतम गंभीर जैसा खिलाड़ी भारतीय क्रिकेट को शायद ही मिल सके। जिनमें हैं ये खास गुण….

दबाव झेलने की जबरदस्त काबिलियत

भारतीय क्रिकेट में कई बल्लेबाज ऐसे रहे हैं, जो दबाव आने पर बिखरते नहीं बल्कि निखर जाते हैं। इनमें से एक नाम गौतम गंभीर का भी रहा है, जिन्होंने दबाव में बढ़िया प्रदर्श किया है।

गौतम गंभीर के करियर में ऐसी कई पारियां रही है, जिसमें उन्होंने दबाव में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। गौतम गंभीर ने इसी तरह का माद्दा साल 2009 में न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्हीं की जमीं पर दिखाया जब फॉलोऑन खेलने के बाद उन्होंने 436 गेंदों में 137 रन बनाकर मैच को ड्रॉ करवाया।

मैन ऑफ द मैच बनने के बाद साथी खिलाड़ी को दे दिया पुरस्कार

गौतम गंभीर बड़े ही दिल वाले इंसान हैं। गंभीर एक बढ़िया क्रिकेटर रहने के साथ ही एक बेहतरीन इंसान भी रहे। गौतम गंभीर ने इसका उदाहरण कई बार दिया है

लेकिन सबसे बड़ा उदाहरण तो उन्होंने साल 2009 में श्रीलंका के खिलाफ मैच में दिया था जब गौतम गंभीर को 150 रन बनाने के लिए मैन ऑफ द मैच पुरस्कार दिया गया, लेकिन गंभीर ने इस पुरस्कार को अपने वनडे का पहला शतक बनाने वाले विराट कोहली को दे दिया।

भारतीय जवानों के लिए करते हैं नेक काम

गौतम गंभीर में देशप्रेमी की भावना कूट-कूट कर भरी हैं। वैसे हर कोई देशप्रेमी ही हैं, लेकिन गौतम गंभीर ने तो इसकी कई मिसाल पेश की हैं।

गौतम गंभीर हमारे देश के सीमा पर तैनात जवानों के लिए बहुत ही निष्ठापूर्वक भावना के साथ मदद करने में आगे रहते हैं। जो उन्हें दूसरे खिलाड़ियों से पूरी तरह से जुदा बनाता है।

आईपीएल खेलकर भी नहीं लिए पैसे

आईपीएल खेल पैसों का खेल है ये हर कोई जानता है। इसमें खेलने वाला हर खिलाड़ी पैसों के लिए ही खेलता है। इसी तरह से साल 2018 आईपीएल में गौतम गंभीर को दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने खरीदा।

जिसमें शुरुआती 6 मैच खेलने के बाद अपने आप को गंभीर ने बाहर कर लिया। इतना ही नहीं पूरे आईपीएल के दौरान टीम के साथ मौजूद रहे लेकिन एक भी पैसा अपने नाम पर बोली लगने वाला नहीं लिया।

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आपको हम जल्दी पहुंचा सके।

Related posts